इंजीनियरिंग कोर्स में पढ़ाया जायेगा हैंगिंग ब्रिज का केस

0
58

इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स के लिए हैंगिंग ब्रिज में उपयोग की गई टेक्निक बहुत बड़ी लर्निंग होगी – प्रो. एनपी कौशिक

कोटा। कोटा के हैंगिंग ब्रिज के निर्माण के बाद अब लोगों की जिज्ञासा इसके हर पहलू को जानने की है। इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स के लिए हैंगिंग ब्रिज में उपयोग की गई टेक्निक बहुत बड़ी लर्निंग होगी। इसको देखते हुए हुए आरटीयू सिविल इंजीनियरिंग के कोर्स में इसकी केस स्टडी शामिल करेगी।

वीसी प्रो. एनपी कौशिक ने बताया कि हैंगिंग ब्रिज उपयोगिता के साथ इंजीनियरिंग के इनोवेशन के रूप में भी अहम है। इस ब्रिज को बनने में बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ा। यह इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स के लिए थ्योरी के साथ प्रैक्टिकल लर्निंग के लिए भी आवश्यक है।

इस ब्रिज की सक्सेस स्टोरी के साथ जब भी फेल्योर हुआ है, वह भी स्टूडेंट्स को बताया जाएगा। यहां तक कि इसकी साइट को विजिट करवाएगा जाएगा।

अपडेट रखना मकसद
प्रो.कौशिक ने बताया कि स्टूडेंट्स को अपडेट रखने के लिए इस इनोवेशन को शामिल किया जा रहा है। लाइव प्रोजेक्ट्स से बच्चे जल्दी सीख सकते हैं। यूनिवर्सिटी के लिहाज से भी महत्वपूर्ण है कि स्टूडेंट्स बाहर साइट्स पर जाकर अधिक से अधिक नॉलेज हासिल करें।