राजस्थान समेत कई राज्यों में धूल भरी आंधी के साथ बारिश की संभावना

0
67

नई दिल्ली/जयपुर । देश के अधिकांश हिस्सों में प्री मानसून की गतिविधियां तेज हो गई हैं। राजस्थान समेत कई राज्यों में एक-दो दिन में आंधी-पानी का दौर देखने को मिल सकता है। मौसम विभाग ने उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में के लिए विशेष अलर्ट जारी किया है।

स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष (मौसम विज्ञान और जलवायु परिवर्तन) महेश पलावत ने बताया कि बुधवार तक उत्तर पश्चिम भारत का मौसम शुष्क और गर्म बना रहेगा। गुरुवार और शुक्रवार को प्री मानसून गतिविधियां तेज होंगी। उस समय पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तरी और मध्य राजस्थान सहित पश्चिमी उत्तर प्रदेश में धूल भरी आंधी के साथ बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। तापमान में तीन से चार डिग्री की गिरावट भी हो सकती है। शनिवार से एक बार फिर मौसम की गतिविधियों में कमी आने लगेगी। हालांकि छुटपुट बारिश और धूल भरी आंधी जारी रह सकती है।

पश्चिमी विक्षोभ पूर्व दिशा में बढ़ रहा
दूसरी तरफ, पश्चिमी विक्षोभ पूर्व दिशा में आगे बढ़ रहा है। इरान के पूर्वी हिस्सों में भी एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है, जो बुधवार की रात या गुरुवार सुबह तक जम्मू-कश्मीर को प्रभावित करना शुरू कर देगा। मध्य पाकिस्तान के ऊपर एक चक्रवाती हवा का क्षेत्र बना हुआ है। उत्तर पश्चिमी मध्य प्रदेश और आसपास के क्षेत्र में साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना हुआ है। एक निम्न दबाव की रेखा इस चक्रवाती हवा के क्षेत्र से उत्तर पूर्वी भारत तक दक्षिणी उत्तर प्रदेश, बिहार और बंगाल होते हुए जा रही है। पूर्वी असम में चक्रवाती हवा का क्षेत्र देखा जा सकता है। एक निम्न दबाव की रेखा मध्य महाराष्ट्र से होकर दक्षिण केरल तक आंतरिक कर्नाटक होते हुए जा रही है।

इन राज्यों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना
अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर और पूर्वी मध्य प्रदेश, दक्षिण और पूर्वी उत्तर प्रदेश, उत्तर-पूर्व भारत, उप-हिमालयीय बंगाल, अंडमान व निकोबार द्वीप समूह, उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश, केरल, तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य महाराष्ट्र, कर्नाटक, गंगीय बंगाल और ओडिशा के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। वहीं, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, रायलसीमा और तमिलनाडु में हल्की बारिश होने के आसार हैं।