NEET PG परीक्षा चार माह के लिए स्थगित, कोविड ड्यूटी पर भेजे जाएंगे मेडिकल इंटर्न

0
43

नई दिल्ली। कोविड-19 से देश में जारी जंग से निपटने के लिए मानव संसाधन को बढ़ाने के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने अनेकों कदम उठाए हैं और कई फैसलों को मंजूरी भी दी है। इस क्रम में कम से कम चार महीनों के लिए NEET-PG परीक्षा को स्थगित करने का ऐलान किया गया है ताकि महामारी की ड्यूटी के लिए हेल्थ वर्करों की कमी न हो और मेडिकल इंटर्न समेत क्वालिफाइड डॉक्टर बड़ी संख्या में उपलब्ध रहें। अब यह परीक्षा 31 अगस्त के बाद ही होगी।

रविवार को प्रधानमंत्री मोदी ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ वर्चुअल बैठक की थी। इस में ही ये अहम फैसले लिए गए। गौर करने वाली बात है कि कोविड से जुड़े कार्यों के लिए तैनात किए गए मेडिकल विद्यार्थियों व पेशेवरों को कोरोना वैक्सीन की खुराक दी जाएगी।

PMO की ओर से सोमवार को दिए गए एक बयान में कहा गया कि MBBS के अंतिम वर्ष के छात्रों को भी इस काम में तैनात किया जा सके। PMO के अनुसार, COVID-19 के लिए ड्यूटी के निर्वाह के 100 दिनों की अवधि पूरा करने वाले हेल्थवर्करों को नियमित सरकारी भर्तियों में प्राथमिकता दी जाएगी।

इसमें यह भी कहा गया है कि B.Sc. व GNM क्वालिफाइड नर्स की टीम को भी सीनियर डॉक्टरों की निगरानी में कोविड नर्सिंग ड्यूटी के लिए तैनात किया जा सकता है। PMO ने कहा कि COVID कर्तव्यों के 100 दिनों को पूरा करने वाले चिकित्साकर्मियों को नियमित सरकारी भर्तियों में प्राथमिकता दी जाएगी। मेडिकल इंटर्न्स को उनकी फैकल्टी की देख-रेख में कोविड प्रबंधन कार्यों के लिए तैयार किया जाएगा।

पीएमओ ने कहा कि MBBS के अंतिम वर्ष के छात्रों को भी हल्के लक्षणों वाले कोरोना केस के मॉनिटरिंग के लिए काम पर नियुक्त किया जाएगा। इस काम की देखरेख उनकी फैकल्टी करेगी। साथ ही कोविड ड्यूटी पर तैनात चिकित्सा कर्मी द्वारा 100 दिनों के कार्य को पूरा करने पर प्रधानमंत्री के कोविड राष्ट्रीय सेवा सम्मान से नवाजा जाएगा। ये सभी सरकार के बीमा योजना में शामिल किए जाएंगे।