एंटीलिया केस: तलोजा जेल ही सचिन वाजे का नया ठिकाना

0
104

मुंबई। एंटीलिया केस में सचिन वाजे की मुश्किलें फिलहाल कम होती नजर नहीं आ रही है। वाजे को NIA की स्पेशल कोर्ट ने 23 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। मतबल अब तलोजा जेल ही वाजे का नया ठिकाना होगा।

एंटीलिया केस में आरोपी सचिन वाजे को NIA कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। मतलब, अब 23 अप्रैल तक वाजे को मुंबई के तलोजा जेल की हवा खानी पड़ेगी। सचिन वाज़े इससे पहले एनआईए की हिरासत में था। अदालत से NIA ने सचिन वाझे की न्यायिक हिरासत की मांग की थी ताकि पूछताछ की जा सके। एजेंसी की इस अपील को कोर्ट ने कुबूल कर लिया।

बता दें, एंटीलिया केस में कितने किरदार और कितने राजदार हैं? NIA इसका शिद्दत से पता लगाने में जुट गई है। लेकिन इतना तो तय है कि मुंबई पुलिस के गिरफ्तार असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सचिन वाजे को फिलहाल राहत मिलती दिखाई नहीं दे रही है। वाजे 23 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वाजे पर शक की सूई उसी दिन जा टिकी थी जब उसे इस केस की जांच की जिम्मेदारी दी गई थी।

26 फरवरी को मौका-ए-वारदात पर सबसे पहले सचिन वाजे पहुंचा था। गाड़ी के मालिक की तलाश की गई तो गाड़ी ठाणे के रहने वाले कारोबारी मनसुख हिरेन की निकली। लेकिन इसके चंद दिनों बाद ही एंटीलिया केस में नया मोड़ तब आया जब 5 मार्च को ठाणे के कलवा से मनसुख का शव बरामद किया गया। तब मनसुख की पत्नी ने सचिन वाजे पर पति की हत्या का शक जताया। अब तक की जांच में ये बात सामने आई है कि वाजे तो बस मोहरा है। तो सवाल यही कि असली मास्टरमाइंड कौन, इसी बात का पता लगाने के लिए देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी एनआईए ने अपने सारे पत्ते खोल दिए हैं।

एंटीलिया मामले को NIA पूरे मामले को टेकअवर कर चुकी थी। वाजे से पूछताछ शुरू कर दी गई थी, जिसके बाद NIA ने वाजे को गिरफ्तार कर लिया। NIA ने मामले को खंगालना शुरू किया तो कड़ियां एक दूसरे से जुड़ने लगी। NIA के हाथ वो फुटेज भी लगा जिसमें वाजे की कद काठी का शख्स विस्फोटक से भरी कार तक जाता नजर आ रहा था। जब वाजे से कड़ाई से पूछताछ की गई तो कहानी की दूसरी परतें भी खुलती चली गई।

की एक से बढ़कर एक लग्जरी गाड़ियों का सामने आना, 16 मार्च से 20 मार्च तक मुंबई के 5 सितारा होटल में रुकना, वाजे की मिस्ट्री वूमन का पता चलना, जिलेटिन की छड़े, नोट गिनने की मशीन, NIA को अब अंदाजा हो गया था कि वाजे ही वो कड़ी है जिसके जरिए एंटीलिया के मास्टर माइंड तक पहुंचा जा सकता है। एंटीलिया केस में जैसे जैसे केस आगे बढ़ रही है..शक का दायरा भी उतना ही गहरा होता जा रहा है। अभी साजिशों के तार और खंगाले जाने बाकी है..मुमकिन है इस केस में और बड़े खुलासे सामने आए जो एंटीलिया केस की सच्चाई दुनिया के सामने ला सके।