अब आ गया बिना चार्जिंग दौड़ने वाला इलेक्ट्रिक स्कूटर, जानिए कैसे

0
311

नई दिल्ली। भारत में तेजी से बढ़ती हुई इलेक्ट्रिक स्कूटर्स की डिमांड को देखते हुए दिग्गज ऑटोमोबाइल कंपनियां अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर्स लॉन्च कर रही हैं। भारत में मिलने वाले इलेक्ट्रिक स्कूटर्स में दो तरह की बैटरी ऑफर की जाती हैं जिनमें लेड-एसिड बैटरी शामिल है साथ ही दूसरी लीथियम आयन बैटरी है। दोनों ही बैटरी एक दूसरे से काफी अलग हैं। इलेक्ट्रिक स्कूटर की बैटरी कितनी देर चलेगी ये बात चलाने के स्टाइल पर निर्भर करती है।

हालांकि एक ऐसा फीचर है जिसकी मदद से आपको इलेक्ट्रिक स्कूटर की बैटरी को चार्ज नहीं करना पड़ता है और फिर भी महज 5 मिनट में स्कूटर की बैटरी फुल हो जाती है। आज की खबर में हम आपको इस ख़ास फीचर के बारे में बताने जा रहे हैं जो न सिर्फ आपका समय बचाता है बल्कि आपको अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर से लंबी दूरी तय करने की आजादी देता है।

जिस फीचर की हम बात कर रहे हैं उसे कहते हैं स्वैपेबल बैटरी, जी हां कुछ लोग इसे डिटैचेबल बैटरी भी कहते हैं जिसका मतलब होता है कि वो बैटरी जिसे आप स्कूटर से बाहर निकाल सकते हैं या फिर अलग कर सकते हैं। इसकी सबसे ख़ास बात ये है कि आप इस बैटरी को डिस्चार्ज होने पर स्कूटर से बाहर निकाल सकते हैं और फिर इसे अपने घर के अंदर लाकर चार्ज कर सकते हैं जिससे काफी सहूलियत होती है।

आपने देखा होगा कि भारत में जितने भी इलेक्ट्रिक स्कूटर्स मौजूद हैं उनकी रेंज ज्यादा से ज्यादा 100 किलोमीटर होती है। मतलब स्कूटर को एक बार फुल चार्ज करके आप ज्यादा से ज्यादा 100 किलोमीटर तक ही ले जा सकते हैं, वो भी सिर्फ तब जब आप अपने स्कूटर को कम स्पीड में चला रहे हों और पिछली सीट पर कोई सवारी ना बैठी हो क्योंकि इसमें ज्यादा बैटरी खर्च होती है।

ऐसे में स्वैपेबल बैटरी फीचर काम आता है। दरअसल आपके पास अगर दूसरी चार्ज बैटरी रखी हो तो आप आसानी से बैटरी खत्म होने पर इसे बाहर निकालकर इसकी जगह पर चार्ज बैटरी लगा सकते हैं और 100 किलोमीटर के सफर को दुगना यानी 200 किलोमीटर का बना सकते हैं। भारत में जितने भी नये और एडवांस तकनीक वाले इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च हो रहे हैं उन सभी में आपको बैटरी स्वैपिंग फीचर मिल जाएगा जो बड़े काम आता है और आपका समय बचाता है।