बिना चार्जिंग के दौड़ेगी ये सोलर इलेक्ट्रिक कार, अपने आप चार्ज होगी बैटरी

0
330

नई दिल्ली। भारत समेत दुनियाभर में जितनी भी इलेक्ट्रिक कारें मौजूद हैं उन सभी में बेहतर से बेहतर रेंज वाली बैटरी का इस्तेमाल किया जाता है जिससे एक बार बैटरी फुल करके इन इलेक्ट्रिक कारों को लंबी दूरी तक बिना रुके हुए ही चलाया जा सके और बिना समय बर्बाद किए हुए ज्यादा से ज्यादा दूरी तय की जा सके। भारत में भी कई ऐसी इलेक्ट्रिक कारें हैं जिनकी रेंज 300 से 400 किलोमीटर की है। इन सभी इलेक्ट्रिक कारों को चार्ज करने के लिए 6 से 8 घंटे का समय लगता है, और बिना चार्ज के हुए इन्हें दोबारा इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है।

अगर इलेक्ट्रिक कार की बैटरी डिस्चार्ज हो जाए तो इसे दोबारा तब तक नहीं चलाया जा सकता जब तक इसे चलने लायक चार्ज ना किया जाए, ऐसे में इमरजेंसी की स्थिति में कई बार कार ग्राहकों को काफी दिक्कत हो जाती है। हालांकि ऐसी कार मार्केट में आ जाए जिसे बिना चार्ज किए ही पूरा दिन अनलिमिटेड दूरी तक चलाया जा सके, इस बारे में आपका क्या सोचना है।

यह बात थोड़ी अटपटी लगती है कि आखिर बिना चार्ज किए हुए किसी इलेक्ट्रिक कार को कैसे चलाया जा सकता है लेकिन यह अटपटी बात अब हकीकत बनने वाली है क्योंकि एक ऐसी कार मार्केट में आने वाली है जिसे बिना चार्ज किए हुए ही पूरा दिन चलाया जा सकता है और ख़ास बात ये है कि ऐसा करने के लिए कोई नई तकनीक नहीं इस्तेमाल की जा रही है। दरससल ऐस करने के लिए सोलर पैनल का इस्तेमाल किया जाएगा जो कार के ऊपर लगे होंगे जिससे कार की बैटरी चार्ज होती रहेगी।

दरअसल कैलीफोर्निया बेस्ड स्टार्ट-अप कंपनी हंबल मोटर्स ने हाल ही में दुनिया की पहली सोलर पावर्ड SUV Humble One को शोकेस किया है। कंपनी ने अपनी इस यूनीक कार की छत को सोलर पैनल से रिप्लेस कर दिया है। इस सोलर पैनल की मदद से कार को अलग से चार्ज करने की जरूरत नहीं पड़ेगी और ये खुद ही चलते-चलते चार्ज हो जाएगी।

Humble Motors में बैटरी चार्ज करने के लिए सोलर रूफ, इलेक्ट्रिसिटी जेनरेटिंग साइड लाइट्स, पियर टू पियर चार्जिंग, री-जेनरेटिव ब्रेकिंग और फोल्ड आउट सोलर ऐरे विंग्स दिए गए हैं। इन सब की मदद से एसयूवी की बैटरी आसानी से चार्ज होती रहती है जब कार पार्क रहती है। हालंकि इस कार की चार्जिंग सूर्य के प्रकाश की क्वालिटी पर निर्भर करती है। यह कार अभी कॉन्सेप्ट स्टेज में है लेकिन आने वाले समय में कंपनी इस कार को ग्लोबल मार्केट में लॉन्च कर सकती है।