प्रशासन समर्थन मूल्य पर खरीद की गति बढ़ाए : भाकिसं

0
124

कोटा। भारतीय किसान संघ ने समर्थनू मूल्य पर खरीद को लेकर गति तथा लक्ष्य बढाने की मांग की है। भारतीय किसान संघ की बैठक मानव विकास भवन पर आयोजित की गई। बैठक में प्रान्त महामंत्री जगदीश कलमंडा, मंत्री शंकरलाल नागर, संगठन मंत्री परमानन्द, शिवराज पुरी ने समर्थन मूल्य पर खरीद को लेकर प्रशानिक व्यवस्थाओं पर असंतोष प्रकट किया गया। संभाग के प्रवक्ता आशीष मेहता ने बताया कि समर्थन मूल्य पर खरीद को लेकर भारतीय किसान संघ की ओर से सरकार और प्रशासन को समय पर ही चेता दिया था। लेकिन, सरकार की ओर से कोई व्यवस्था नहीं की गई।

ज्गदीश कलमंडा ने कहा कि खरीद केन्द्रों पर जिस गति से खरीदी की जा रही है, इस हिसाब से तो केवल 15 प्रतिशत गेहूं की ही खरीदी हो सकेगी। जबकि कुल उत्पादन का तकरीबन 40 फीसदी तो खरीदा ही जाना चाहिए। शंकरलाल नागर ने कहा कि छोटे केन्द्रों पर प्रतिदिन करीबन 250 क्विण्टल खरीदी होनी चाहिए।

परमानन्द ने कहा कि एफसीआई की ओर से ऑनलाइन पंजीयन किए जा रहे हैं और राजफेड की ओर से ऑफ़लाइन पंजीयन किए जा रहे हैं। ऐसे में, दोनों संस्थाओं के बीच कोई समन्वय नहीं स्थापित हो रहा है। जिन्होंने पहले पंजीयन करा दिए उन्हें जून और जुलाई का समय दिया जा रहा है। जिससे शादी विवाह और लेन देन संबंधी कार्याें में देरी की संभावना हो रही है। यदि समय पर गेहूं नहीं बिका तो आर्थिक नुकसान उठाना होगा।

प्रवक्ता आशीष मेहता ने कहा कि संभाग भर में असमय वर्षा होने से गेहूं बदरंग हो गया है। ऐसे में, सरकार को गेहूं खरीद में छूट देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि चने की खरीद को लेकर 25 क्विण्टल का लक्ष्य तय किया है। जबकि गत वर्ष 40 क्विण्टल की खरीदी की गई थी। सरकार की ओर से गत वर्ष भी लक्ष्य को काफी समय बाद बढाया गया था। जिससे किसान का चना बिकने के बाद लक्ष्य बढाने से कोई लाभ नहीं हो पाया। इस बार भी लक्ष्य को समय पर ही बढा दिया जाए। जिससे किसान को इसका लाभ मिल सके।

बैठक में महिला प्रमुख भारती नागर, संभाग सहमंत्री रमेश गेहूंखेड़ी, संभाग युवा प्रमुख प्रभुदयाल धाकड़, जिलाध्यक्ष गिरीराज चैधरी, मंत्री देवीशंकर गुर्जर, रमा शर्मा, रूपनारायण यादव, सूरजमल नागर, उमेश नागर, सत्यनारायण धाकड़, दुर्गालाल अहीर, रामकल्याण सेन, पवन शर्मा, अखिलेश दाधीच, हेमराज दीक्षित, मुकुट बिहारी समेत कईं कार्यकर्ता मौजूद रहे।