कोटा में चिकित्सा संबंधी आठ करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण

0
187

कोटा। नवजातों की मौत को लेकर सुर्खियों में रहने वाला JK लोन अस्पताल अब बदल गया है। यहां प्रदेश का पहले मॉड्यूलर NICU बनकर तैयार हुआ है। शनिवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने VC के जरिए NICU का लोकार्पण किया। साथ ही मुख्यमंत्री ने कोटा मेडिकल कॉलेज से सम्बद्ध अस्पतालों में 8 करोड़ 42 लाख रुपये के कार्यों का लोकार्पण किया।

इसमें ब्लड कम्पोनेंट यूनिट, ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट व स्कूल ऑफ नर्सिंग भवन का भी लोकार्पण भी शामिल है। चिकित्सा महकमे में सुविधाओं के विस्तार होने से हाडौती सम्भाग के मरीजों को फायदा होगा। VC में कोटा से UDH मंत्री शांति धारीवाल, सम्भागीय आयुक्त, कलेक्टर, मेडिकल कॉलेज प्राचार्य, चारों अस्पतालों के अधीक्षक, CMHO सहित चिकित्सा विभाग से जुड़े अधिकारी भी जुड़े रहे।

प्रदेश का पहला मॉड्यूलर NICU ​​​​​​(3.24 करोड़)

जेकेलोन अस्पताल का नया मॉड्यूलर एनआईसीयू

JK लोन अस्पताल में प्रदेश का पहला मॉड्यूलर NICU बनकर तैयार हुआ है। इसमें 6500 स्कावयर फीट में रिनोवेशन कार्य व 2500 स्कावयर फीट क्षेत्रफल का मॉड्यूलर NICU है। इसकी क्षमता 114 बेड की है। इसमें 20 बेड का मदर वार्ड भी है। NICUमें वार्मर, सीपेप मशीन, फोटोथैरेपी मशीन, इंफूजन पम्प, वेनिलेटर, मॉनिटर व अन्य मशीनें उपलब्ध कराई गई है। शुद्ध ऑक्सीजन के लिए हेपा फिल्टर है। सेंट्रल एसी सिस्टम ठंड और गर्मी में जरूरी तापमान मेंटेन करेगा।

ब्लड कंपोनेंट सेपरेशन यूनिट (1.32 करोड़): नए अस्पताल में 132 लाख रुपये की लागत से ब्लड कंपोनेंट सेपरेशन यूनिट की स्थापना की गई है। इसकी स्थापना से हाडोती क्षेत्र के मरीजों को अलग-अलग कंपोनेंट के रक्त की सुविधा मिल सकेगी की सुविधा मिल सकेगी। मरीज के तीमारदारों को ब्लड लेने के लिए इधर से उधर नहीं जाना पड़ेगा।

ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट (1.28 करोड़): नए अस्पताल स्थित सुपर स्पेशयलिटी ब्लॉक व MBS अस्पताल में 64- 64 लाख की लागत से ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट स्थापित किये गए हैं। कोविड-19 के दौरान नए अस्पताल में दो ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट पहले ही स्थापित किए जा चुके हैं। मेडिकल कॉलेज से संबद्ध अस्पतालों में कुल 4 ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट हो चुके हैं। अब अस्पतालों में ऑक्सीजन की खपत कम हो सकेगी। सम्भाग के मरीजों को लाभ मिलेगा।

MBS में स्कूल ऑफ नर्सिंग भवन (2.58 करोड़): राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM) योजना के तहत एमबीएस में स्कूल ऑफ नर्सिंग भवन का निर्माण कार्य हुआ है। मुख्यमंत्री ने VC के जरिये भवन का लोकार्पण किया। GNM कोर्स के लिए प्रतिवर्ष 60 सीटों के लिए प्रवेश होते हैं। 3 बैच में कुल 180 विद्यार्थी प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं। नये भवन निर्माण से सभी विद्यार्थीयों को लाभ मिलेगा।