कोटा में जल्द ही आठ हजार परिवारों को मिलेगी PNG

0
203

कोटा। राजस्थान में पाइपलाइन के माध्यम से पेयजल की तरह घरेलू PNG (Piped natural gas) सप्लाई के हो रहे कामों के चलते अब जल्द कोटा में मौजूद गैस सप्लाई लाइन से वहां के आठ हजार परिवारों को जल्द ही गैस कनेक्शन जारी किए जाएंगे। इसके बाद उन्हें एलपीजी गैस सिलेंडर की आवश्यकता नहीं होगी, वे सीधे अपने घर पर कनेक्शन लेकर उपभोग के मुताबिक PNG ले सकेंगे।

जानकारी के अनुसार पिछले दिनों खान एवं पाइपलाइन विभाग के प्रमुख शासन सचिव अजिताभ शर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में कोटा में जल्द PNG पाइपलाइन नेटवर्क का विस्तार करने का फैसला किया गया है। हालांकि अभी भी कुछ घरों में इसकी सप्लाई का दावा विभाग कर रहा है, लेकिन अब उस लाइन के घरेलू गैस वितरण नेटवर्क को विस्तारित किया जाएगा। लोकल नेटवर्क के तहत 141 किलोमीटर की पाइपलाइन जल्द बिछाने का काम शुरू होगा।

अब तक 7 सीएनजी स्टेशन स्थापित: कोटा में 7 सीएनजी स्टेशनों को सप्लाई के लिए अब तक स्थापित किया जा चुका है। पाइपलाइन से गैस आपूर्ति में उपभोक्ता को गैस कम कीमत पर मिलने की संभावना है। जयपुर सहित अन्य जिलों में भी यह काम प्रस्तावित हैं, लेकिन फिलहाल इन प्रोजेक्ट पर जमीनी स्तर पर काम ना के बराबर ही है। यहां भी जल्द कार्ययोजना बनाकर नेटवर्क विकास को मूर्तरूप दिए जाने पर गहनता से विचार विमर्श हो रहा है। राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड की ओर से कोटा के अलावा अभी मध्यप्रदेश के श्योपुर और ग्लालियर में भी गैस वितरण नेटवर्क विकसित करने का काम किया जा रहा है।

कोटा में आठ हजार गैस कनेक्शन: पेट्रोलियम विभाग के प्रमुख शासन सचिव अजिताभ शर्मा ने बताया कि जल्द कोटा में 141 किमी की क्षेत्रीय इलाके में गैस सप्लाई नेटवर्क विकसित होगा। शुरूआत में आठ हजार गैस कनेक्शन जारी करने का टारगेट है।