विशाल सिक्का बन सकते हैं एचपी के सीटीओ

0
41

विशाल सिक्का एचपी के डाटा सेंटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर सेक्टर में कार्यरत हो सकते हैं

मुंबई। देश की बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस से अलग हो चुके विशाल सिक्का अमेरिकन कंपनी हैवल्ट पैकर्ड एंटरप्राइसिस के सीनियर टेक्नोलॉजी ऑफिसर बन सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक वे जल्द ही 50 बिलियन डॉलर की आईटी कंपनी का हिस्सा बन सकते हैं।

उन्होंने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है, लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि वे एचपी के डाटा सेंटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर सेक्टर में कार्यरत हो सकते हैं। बता दें कि एचपी दुनिया में अपने कंप्यूटर और लैप्टॉप की सेलिंग के लिए जानी जाती है।

सिक्का ने इस्तीफे के बाद दिए बयान में इसके लिए देश की इस दिग्‍गज आईटी कंपनी के पूर्व चेयरमैन और फांउडर रहे एनआर नारायणमूर्ति के अनावश्यक हस्तक्षेप को जिम्मेदार ठहराया।

हालांकि, कंपनी ने सिक्का के पद का ख्याल रखते हुए उन्हें एक्यजीक्यूटिव वाइस चेयरमैन बनाया था। जबकि उनकी जगह कंपनी के सीओओ यूबी प्रवीण राव को सीईओ की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई थी।

इस्तीफे के बाद सिक्का ने तीन पेज का खत लिखते हुए कंपनी के कर्मचारियों और अधिकारियों को संबोधित किया था। जिसमें उन्होंने अपने काम में नारायणमूर्ति के बढ़ते हस्तक्षेप को लेकर आरोप लगाया था कि इसके कारण काम करना अब मुश्किल होता जा रहा है।

वहीं सिक्का के यह आरोप सामने आने के बाद कंपनी ने भी इस संबंध में अपना बयान जारी कर दिया। कंपनी के को चेयरमैन आर वेंकटेशन ने कहा हमें काफी दुख के साथ उनका इस्तीफा स्वीकार करना पड़ रहा है।