रिपब्लिक पर बोले अर्नब गोस्वामी- उद्धव जी गन लेकर अपने आदमी मेरे पास भेजते हैं

0
77

मुंबई। रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को दो और आरोपियों सहित खुदकुशी के लिए उकसाए जाने वाले आरोप के मामले में अंतरिम ज़मानत मिल गई है। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को अर्नब गोस्वामी की तरफ से दायर याचिका पर सुनवाई के बाद 50,000 का निजी मुचलका भरने के आदेश के साथ अंतरिम ज़मानत दे दी। अर्नब गोस्वामी जेल से छूटते ही एक बार फिर महाराष्ट्र सरकार पर खूब बरसे हैं। उन्होंने अपनी गिरफ्तारी को अवैध बताया है।

रिपब्लिक टीवी के डिबेट शो, ‘पूछता है भारत’ में अर्नब गोस्वामी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का नाम लेते हुए कहा कि वो उनके सवालों का जवाब दें। उन्होंने कहा, ‘रिपब्लिक नेटवर्क के लिए सिर्फ राष्ट्र सर्वोपरि है, इसलिए साज़िश करने वाले न तो कभी रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क को छू पाए हैं, न छू पाएंगे, सुन लीजिए उद्धव जी। इसलिए मैं एक बार फिर आपको बुला रहा हूं अपने स्टूडियो में। उद्धव जी, मेरी आंख में आंख डालकर बात कीजिए, अगर आपमें हिम्मत है तो। चलिए बहस करते हैं और देखते हैं कि कौन जीतता है।’

अर्नब ने आगे कहा, ‘मगर आपके तौर – तरीके ठीक नहीं हैं उद्धव जी, एक गंदी सी साज़िश करके आपने मेरे घर के अंदर AK -47, पिस्तौल, स्टैंड गन लेकर लोगों को भेजा सुबह 6:30 बजे। ये क्या तौर- तरीका है आपका? ये क्या कर रहे हो उद्धव जी? 70 लोगों ने मिलकर मेरे फ्लैट को घेर लिया ये क्या कर रहे हो उद्धव जी? हमला करते हो, मेरे परिवार पर हमला करते हो, फिर मुझे एक जेल से दूसरे जेल चुपचाप बिना वकीलों को बताए शिफ्ट करने की कोशिश करते हो। फिर भी आप हमें नहीं तोड़ सकते। ये आपकी सोच हमें और मजबूत बना रही है उद्धव जी।’

अर्नब लगातार उद्धव ठाकरे पर हमलावर दिखे। उन्होंने कहा, ‘मेरे खिलाफ साज़िश रचने में कही कोई कसर नहीं छोड़ी है आपने उद्धव जी। लेकिन हर बार उन्हें मुंह की खानी पड़ी, इसलिए आज आपसे पूछता है भारत की सच की आवाज़ को सत्ता की ताक़त से कब तक दबाओगे उद्धव जी? सच के सामने हारे लोग क्या अब कुर्सी छोड़कर देश से माफी मांगेंगे? देश के लिए आवाज़ उठाने वालों के खिलाफ आखिर कब तक करोड़ों रुपए ख़र्च करके षडयंत्र का सहारा लेते रहोगे? सच्चे और तीखे सवालों से कब तक भागते रहेंगे आप आप उद्धव जी?’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here