राजस्थान में 11 दिन बाद गुर्जर आंदोलन समाप्त, रेल लाइन शुरू, इंटरनेट सेवायें बहाल

0
64

जयपुर। राजस्थान की अशोक गहलोतसरकार के साथ सहमति बनने के बाद गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति ने बयाना में जारी अपना 11 दिन पुराना आंदोलन बृहस्पतिवार सुबह समाप्त कर दिया। इसके साथ ही दिल्ली- मुंबई रेल लाइन पर ट्रेनों की आवाजाही बहाल कर दी गयी है और कई जिलों में बंद पड़ी मोबाइल इंटरनेट सेवाएं भी चालू हो गयी हैं।

उल्लेखनीय है कि आरक्षण सहित कई मांगों को लेकर आंदोलन कर रही गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के प्रतिनिधिमंडल की बुधवार को यहां मंत्रिमंडलीय उप समिति के साथ बैठक हुई जिसमें छह बिंदुओं पर सहमति बनी थी। पुलिस के अनुसार रेलवे ट्रैक पर बैठे गुर्जर समाज के लोग बृहस्पतिवार को अपने घरों को लौट गए। इसके साथ ही भरतपुर सहित कई जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी गयी हैं।

गुर्जर नेता विजय बैंसला ने कहा, ‘सरकार के साथ हमारा बुधवार को समझौता हुआ। हम रेल ट्रैक खाली कर रहे हैं। रेल सेवा शीघ्र ही बहाल हो जाएगी।’ उत्तर- पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि गुर्जर आंदोलन समाप्त हो जाने के कारण प्रभावित रेल संचालन बहाल कर दिया गया है और जो रेलगाड़ियां बदले हुए मार्ग पर चल रही थीं उन्हें उनके मूल मार्ग पर चलाया जाएगा। आरक्षण सहित अन्य मांगों को लेकर आंदोलनकारी बयाना के पीलूपुरा के पास दिल्ली- मुंबई रेल मार्ग पर पटरियों पर बैठे थे। इस बार आंदोलन एक नवंबर से 11 नवंबर तक चला।

बुधवार को मंत्रिमंडलीय उप समिति के तीन सदस्य और गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के बीच कई घंटे की चर्चा के बाद छह बिंदुओं पर सहमति बनी और समझौते पर हस्ताक्षर किये गये। समझौते के बाद ऊर्जा मंत्री बी डी कल्ला ने बताया कि कई साल पहले

गुर्जर आरक्षण आंदोलन के दौरान तीन मृतकों कैलाश गुर्जर, मान सिंह गुर्जर और प्रदीप गुर्जर के परिजनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से पांच- पांच लाख रूपये की सहायता राशि तथा संबंधित परिवार के आश्रितों को नियुक्ति पत्र जारी किये गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here