एलन ने 200 आदिवासी स्टूडेंट्स की निशुल्क कोचिंग शुरू की

0
301

कोटा। राजस्थान सरकार के जनजातीय क्षेत्रिय विकास विभाग उदयपुर एवं एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट कोटा के संयुक्त तत्वावधान में आदिवासी, पिछड़े व सरकारी स्कूलों में अध्ययनरत 200 विद्यार्थियों को निशुल्क कोचिंग दी जाएगी। एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के आशा प्रोजेक्ट के तहत इस इंजीनियरिंग व मेडिकल प्रवेश परीक्षा की कोचिंग का ओरियन्टेशन वेबिनार सोमवार को हुआ।

इस वेबिनार में लाभान्वित होने वाले स्टूडेंट्स के साथ विभाग के अधिकारी एडिश्नल कमिश्नर प्रथम वी सी गर्ग, एडिश्नल कमिश्नर द्वितीय अंजलि राजौरिया, एलन के निदेशक नवीन माहेश्वरी व एलन के वाइस प्रसीडेंट तुषार पारेख शामिल थे। इसके साथ ही ‘संघर्ष से सफलता तक‘ सेशन भी हुआ, जिसमें विपरीत परिस्थितियों में अपनी प्रतिभा साबित करने वाले एलन स्टूडेंट्स ने अपनी कहानी बताकर स्टूडेंट्स को प्रेरित किया।

कार्यक्रम में एडिश्नल कमिश्नर (आईएएस) अंजलि राजौरिया ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि वे एक डॉक्टर भी हैं और जयपुर में पढ़ाई के दौरान टेस्ट सीरिज के माध्यम से वे एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट से जुड़ी रहीं। यहां सभी स्टूडेंट्स के लिए यह अच्छा अवसर है जब एलन के साथ जुड़कर अपना सपना पूरा करने का मौका मिल रहा है। अपने लक्ष्य को लेकर लगातार मेहनत करें और आगे बढ़ते रहें।

एलन के निदेशक नवीन माहेश्वरी ने कहा कि यह प्रोग्राम अप्रेल में शुरू होना था लेकिन कोरोना के चलते शुरू नहीं हो सका, अब वर्तमान परिस्थितियों के चलते इस वर्ष ऑनलाइन ही पढ़ाया जा रहा है। सभी स्टूडेंट्स इस प्रोग्राम का लाभ लें अपने लक्ष्य को पूरा करने में जुट जाएं। एलन हर समय आपकी मदद के लिए तैयार रहेगा। अभावों को रास्ते में बाधा नहीं बनने दें, आपमें से ही आने वाले समय के वैज्ञानिक, समाजसेवी निकलेंगे। भारतवंशियों का जमाना है, कमला हैरिस अमरीका की उपराष्ट्रपति चुनी गई हैं। टीएडी और एलन की इस मुहिम में डीपीएस उदयपुर भी सहयोगी है। उदयपुर में क्लासरूम कोचिंग डीपीएस स्कूल में होगी।

एलन के वाइस प्रसीडेंट तुषार पारेख ने कोचिंग प्रोग्राम और इस दौरान दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि स्टूडेंट्स की जो डेली क्लासेज होगी वो 24 घंटे तक लॉगइन के साथ उपलब्ध रहेगी। इसके अलावा हर 15 से 21 दिन में टेस्ट होंगे तथा डाउट काउंटर लाइव होंगे, जिसमें क्लास के दौरान यदि कुछ समझ नहीं आया तो व्यक्तिगत रूप से समझ सकेंगे। स्टूडेंट्स को 31 दिसम्बर 2021 तक जेईई और नीट का कोर्स कम्पलीट करवा दिया जाएगा।

कार्यक्रम में एलन एलुमिनी बालिका वधु रूपा यादव ने अपने अनुभव सुनाए, अपनी जीवनी बताते हुए उन्होंने शादी से लेकर बीकानेर मेडिकल कॉलेज तक के सफर की कहानी बताई। वहीं एलन आशा प्रोजेक्ट के तहत लाभान्वित हुए छात्र मनोहरलाल बुनकर ने जोधपुर के मेहरानगढ़ में अभावों में पढ़ाई और फिर कोटा एलन में पढ़ाई तथा झालावाड़ मेडिकल कॉलेज तक के सफर के बारे में बताया। कार्यक्रम में शामिल अन्य स्टूडेंट्स कोर्स और अन्य सुविधाओं से जुड़े सवाल पूछे, जिसका तुषार पारेख सर ने जवाब दिया। कार्यक्रम का संचालन विभाग के सलाहकार शिक्षाविद् सुभाष शर्मा ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here