अब कॉलेज विद्यार्थी साथ में पढ़ेंगे तकनीकी काेर्स, जानिए क्या है योजना

0
18

अजमेर/ कोटा। काॅलेज शिक्षा विभाग ने काॅलेज के विद्यार्थियाें की क्षमता के विकास के लिए तकनीकी काेर्स पढ़ाने का निर्णय लिया है। इसके लिए भारतीय सूचना प्राैद्याेगिकी संस्थान (ट्रिपल आईटी) काेटा से एमओयू साइन किया है।

जिसके तहत विद्यार्थियाें काे साइबर सिक्यूरिटी सहित कई अन्य काेर्स पढ़ने का माैका मिलेगा। यह काेर्स पूरी तरह फ्री हाेंगे। इसका प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा। इन काेर्सेज काे मूक काेर्सेज नाम दिया गया है। सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय काॅलेज अजमेर के प्राचार्य और अजमेर जिला राजकीय काॅलेजाें की रेस समिति के अध्यक्ष डॉ. एमएल अग्रवाल ने बताया कि राजस्थान के राजकीय और प्राइवेट काॅलेजाें में पढ़ने वाले लगभग 12 लाख विद्यार्थियों के लिए लिए यह अच्छा माैका है।

उनके लिए क्षमता विकास, रोजगारपरक अतिरिक्त कौशल और ज्ञान संवर्द्धन के लिए कॉलेज शिक्षा विभाग राजस्थान ने आईआईआईटी कोटा के साथ एक एमओयू साइन किया है। आईआईआईटी काेटा प्रदेश विद्यार्थियों के लिए मूक कोर्स डिजाइन करवा रहा है। यह काेर्सेज भाषात्मक दृष्टि से सरल और सहज होंगे। हर काेर्स लगभग 6-8 सप्ताह और 30-36 मॉड्यूल्स का होगा। यह निशुल्क पढ़ाए जाएंगे।

आयुक्त कॉलेज शिक्षा संदेश नायक ने कहा कि विभाग के अंतर्गत 332 राजकीय और 1778 निजी काॅलेज हैं। इनके सभी विद्यार्थियों के लिए कौशल क्षमता विकास के लिए कोर्स या प्रशिक्षण आयोजित करवाना विभाग की प्राथमिकता है। इसके लिए विभाग विभिन्न संस्थाओं के साथ मिलकर कौशल दक्षता, क्षमता विकास और ज्ञान संवर्द्धन आधारित कोर्स-प्रशिक्षण करवाने के लिए कार्य कर रहा है। इसी कड़ी में विभाग ने आईआईआईटी कोटा के साथ यह एमओयू किया है

डिग्री और सर्टिफिकेट काेर्स एक साथ
शिक्षा आयुक्त संदेश नायक ने बताया कि इससे विद्यार्थियाें काे एक साथ डिग्री और कई सर्टीफिकेट्स पढ़ने काे मिल सकेंगे। राजकीय काॅलेजाें के साथ-साथ प्राइवेट काॅलेजाें में पढ़ रहे विद्यार्थियों के लिए इस तरह की पहली योजना विभाग शुरू कर रहा है। इससे 12 लाख से ज्यादा विद्यार्थियाें काे लाभ मिलेगा।

विदेश में डिजाइन हाे रहे काेर्स
आईआईआईटी कोटा के निदेशक प्रोफेसर उदय आर. यारागट्टी ने बताया कि इन कोर्सेस को बनाने के लिए बाइडेन नेटवर्क सर्बिया के साथ भी एमओयू किया है। इन कोर्सेस को विद्यार्थियों द्वारा उनकी सुविधा के अनुसार ऑनलाइन किया जा सकेगा। कोर्स खत्म हाेने पर इनका मूल्यांकन और प्रमाण-पत्र आदि सभी कार्य ऑनलाइन ही हाेंगे। ये कोर्स हिंदी भाषा में उपलब्ध हाेंगे।

यह काेर्स पढ़ाए जाएंगे
पहले चरण के काेर्स में बेसिक कंप्यूटर, एडवांस कंप्यूटर, मशीन लर्निंग, साइबर सिक्यूरिटी, एनीमेशन, ग्राॅफिक्स, डाटा एंट्री, स्पोकन इंग्लिश एंड कम्यूनिकेशन स्किल्स जैसे कोर्स शामिल किए गए हैं। एमओयू के दाैरान बाइडेन नेटवर्क सर्बिया की टीम भी ऑनलाइन जुड़ी। यहां कॉलेज शिक्षा अतिरिक्त आयुक्त बीएल गोयल, अशाेक कुमार व्यास, डाॅ. विनोद भारद्वाज आदि मौजूद रहे।