राज्यसभा में जया बच्चन का कंगना रनौत और रवि किशन पर कटाक्ष

0
84

नई दिल्ली। सपा सांसद जया बच्चन ने आज राज्यसभा कहा कि बॉलीवुड को बदनाम करने की साजिश चल रही है। मनोरंजन उद्योग में लोगों को सोशल मीडिया के माध्यम से ट्रोल किया जा रहा है। उन्होंने एक्ट्रेस कंगना रनौत का नाम लिए बिना कहा कि इस इंडस्ट्री में अपना नाम बनाने वाले लोग इसे अब गटर बता रहे हैं। बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में बार-बार बयान देकर चर्चा में आई कंगना रनौत ने बीते 26 अगस्त को ट्विटर के जरिए बॉलीवुड को गटर कह डाला था।

जया ने कहा, “मैं इस तरह की बातों से पूरी तरह से असहमत हूं। मुझे उम्मीद है कि सरकार ऐसे लोगों को इस तरह की भाषा का उपयोग नहीं करने के लिए कहेगी। सिर्फ कुछ लोगों के कारण आप पूरी इंडस्ट्री की छवि को धूमिल नहीं कर सकते।” गोरखपुर के सांसद रवि किशन का नाम लिए बिना उन्होंने कहा, “मुझे शर्म आती है कि कल लोकसभा में हमारे एक सदस्य, जो फिल्म उद्योग से हैं, ने इसके खिलाफ बात की। यह शर्मनाक है। जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं। गलत बात है।”

बीजेपी सांसद रवि किशन ने सोमवार को लोकसभा में बॉलीवुड के तथाकथित ड्रग्‍स कनेक्‍शन को लेकर बयान दिया था। उन्‍होंने कहा था हमारे फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग्‍स पैठ बना चुकी है। रवि किशन ने दावा किया था कि पाकिस्तान एवं चीन से मादक पदार्थों की तस्करी हो रही है तथा यह देश की युवा पीढ़ी को बर्बाद करने की साजिश है।

उन्होंने कहा कि एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री हर रोज 5 लाख लोगों को सीधा रोजगार देती है। देश की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है और चीजों से ध्यान हटाने के लिए हमारा इस्तेमाल किया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर हमपर निशाना साधा जा रहा है। हमें सरकार से भी समर्थन नहीं मिल रहा है। जिन लोगों ने फिल्म इंडस्ट्री के सहारे ही नाम कमाया उन्होंने इस गटर कहा। इस इंड्रस्टी में कुछ ऐसे लोग भी हैं जो सबसे ज्यादा टैक्स देते हैं, लेकिन उन्हें भी परेशान किया जा रहा है। सपा सांसद ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री को लेकर कई वादे किए गए, लेकिन वो कभी पूरे नहीं हुए।

जया बच्चन ने कहा, “सरकार को एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के समर्थन में आना चाहिए। ये इंडस्ट्री हमेशा सरकार को मदद देने के लिए आगे आती रही है। सरकार जो भी अच्छा काम करती है हम उसका समर्थन करते हैं।

जब कोई आपदा आती है तो बॉलीवुड के ही लोग मदद करते हैं।” जया बच्चन ने कहा कि मुझे लगता है सरकार को एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री की मदद करनी चाहिए, इंडस्ट्री को सरकार के समर्थन की जरूरत है।