गहलोत सरकार के खिलाफ भाजपा आज लाएगी अविश्वास प्रस्ताव

0
39

जयपुर। अशोक गहलोत की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार ने सत्र के दौरान विश्वास प्रस्ताव लाने तो मुख्य विपक्षी दल भाजपा ने अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने की घोषणा की है, जिससे विधानसभा का यह सत्र काफी हंगामेदार रहने की संभावना है।

कांग्रेस के बागी विधायकों की वापसी के बावजूद राजस्थान का सियासी संकट कम होता नहीं दिख रहा। शुक्रवार से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र एक दिन पहले हुई भाजपा विधायक दल की बैठक में अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का फैसला हुआ। दूसरी ओर, एक महीने की बगावत के बाद लौटे पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने बृहस्पतिवार शाम सीएम अशोक गहलोत से उनके आवास पर जाकर मुलाकात की।

इससे पहले भाजपा विधायक दल की बैठक के बाद नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने कहा, प्रदेश में कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है। कानून-व्यवस्था फेल हो चुकी है। सरकार गिराने के आरोपों एसओजी ने जिन लोगों को गिरफ्तार किया उन्हें भाजपा से जोड़ने की नाकाम कोशिश की गई। हम अविश्वास प्रस्ताव के मसौदे में यह सब बिंदु शामिल कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, गहलोत सरकार जल्द गिरेगी। कांग्रेस घर में टांका लगाकर कपड़े जोड़ना चाह रही है, लेकिन कपड़ा फट चुका है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा, शुक्रवार को ही अविश्वास प्रस्ताव लाएंगे। भाजपा और रालोपा के 75 विधायकों में से 74 बैठक में थे। बैठक में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व राजस्थान प्रभारी अविनाश राय खन्ना भी मौजूद थे।

बसपा कांग्रेस के खिलाफ वोट करेगी
राजस्थान में बहुजन समाज पार्टी बीएसपी ने अपने छह विधायकों के लिए व्हिप जारी किया है। इसमें उन्हें अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने की स्थिति में कांग्रेस के खिलाफ वोट करने के लिए कहा गया है।