प्लाज्मा डोनेट कर कोरोना संक्रमितों की जान बचाने को आ रहे लोग

0
229

प्लाज्मा डोनेशन के लिए टीम जीवनदाता ने संभाली कमान

कोटा। पहले रक्तदान उसके बाद एसडीपी और अब प्लाजा डोनेट के क्षेत्र में टीम जीवनदाता ने कमान संभाल ली है। अब तक वह 5 लोगों को प्लाजा डोनेशन के लिए मोटिवेट कर चुके हैं। गुरूवार को भी एक डोनर को दो दिन के अथक प्रयास के बाद तैयार किया गया और एक मरीज की जान बचाने का प्रयास किया गया।

टीम जीवनदाता के संयोजक व लायंस क्लब के जोन चेयरमैन भुवनेश गुप्ता ने बताया कि कोरोना को मात देकर जो लोग सामान्य जीवन जी रहे हैं, उन्हें मोटिवेट किया जा रहा है। और आने वाले मोर्डेट रोगियों को प्लाज्मा उपलब्ध कराने के लिए डोनरों को घर जाकर समझाइश की जा रही है और उन्हें डोनेशन के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

गुप्ता ने बताया कि गुरूवार को भी महावीर नगर विस्तार योजना निवासी अमन सरथलिया (30) ने महात्मा गांधी अस्पताल जयपुर में भर्ती एक कोरोना रोगी के लिए ए पॉजिटिव प्लाज्मा डोनेशन किया। हालाकी मरीज की स्थिति गंभीर होने पर अभी प्लाज्मा नहीं चढ़ाया जा सका।

प्लाज्मा की नहीं आने देंगे कमी
टीम जीवनदाता के संयोजक गुप्ता ने बताया कि कोटा में प्लाज्मा बैंक की शुरूआत होने जा रही है, ऐसे में जिला प्रशासन व मेडिकल कॉलेज प्रशासन के सहयोग से प्लाज्मा बैंक में प्लाज्मा की कमी नहीं आने दी जाएगी। कोटा में करीब 1250 से अधिक कोरोना पॉजिटिव ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं, इनमें ऐसे लोगों को चिंहित किया जा रहा है जो प्लाज्मा डोनेट कर सकें।

गुप्ता ने बताया कि इस दौरान टीम जीवनदाता के प्रतीक अग्रवाल, वर्धमान जैन, मनोज जैन, नितिन मेहता, इन्द्रजीत सिंह, विनोद जैन सहित कई लोगों का विशेष मिल रहा है। डोनेशन अधिक से अधिक हो इसके लिए एक टीम बनाई गई है जो ठीक होने वालों के घर जाकर उन्हें मोटिवेट करती है, मरीज की गंभीरता को बताती है और प्लाज्मा डोनेशन के फायदे बताती है।

जल्द ही और लोगों को जोडा जाएगा और प्लाज्मा डोनेशन के क्षेत्र में कार्य किया जाएगा। इस अवसर पर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. विजय सरदाना, मेडिसिन विभाग की एचओडी दीप्ती शर्मा, डॉ. एचजी मीणा, डॉ. सुधीर मिश्रा ने प्लाज्मा डोनेट करने आए डोरन का उत्साहवर्धन किया।