बड़े मथुराधीश प्रभु टेंपल बोर्ड ने राम मंदिर निर्माण के लिए सौंपा 51 हजार का चैक

0
287

कोटा।अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए पुष्टिमार्गीय बल्लभकुल प्रथम पीठ श्री मथुराधीश प्रभु कोटा से प्रभु की झारी जी का जल और 51 हजार का चैक अयोध्या भेजा गया है। प्रथम पीठ युवराज मिलन कुमार बावा के निर्देश पर यह चैक विश्व हिन्दु परिषद के कार्यकर्ताओं को सौंपा गया।

मंदिर ट्रस्ट के प्रबंधक चेतन सेठ तथा मोनू व्यास ने बताया कि श्रीराम मंदिर निर्माण से पूर्व शिला पूजन में इस पवित्र जल का उपयोग किया जाएगा। वहीं निर्माण कार्य में आर्थिक सहयोग के तौर पर 51 हजार की न्यौछावर राशि भेंट की गई है। यह झारीजी का जल पुष्टिमार्ग में यमुना का प्रतीक और अतिपवित्र माना जाता है। प्रभु श्रीनाथ जी तथा विठ्ठलनाथ जी मंदिर से भी इसी प्रकार जल अयोध्या भेजा गया है।

उन्होंने बताया कि सम्पूर्ण भारतवर्ष के समस्त तीर्थाें से माटी और पवित्र जल शिला पूजन के लिए अयोध्या भेजा जा रहा है। श्रीराम मंदिर तीर्थ क्षैत्र के निर्णय के अनुसार कोटा मथुराधीशप्रभु मंदिर से भी झारीजी का जल अयोध्या भेजा गया है। इससे पहले कुटुम्ब प्रबोधन के संयोजक गोपालचंद शर्मा तथा विश्व हिन्दु परिषद के विभागाध्यक्ष राजेन्द्र नाथ चतुर्वेदी ने झारीजी के जल की पधरावणी की।

शुद्धाद्वैत प्रथम पीठ श्री मथुराधीश टेम्पल बोर्ड श्रीरामजन्मभूमि आन्दोलन से प्रारंभिक काल से ही जुड़ा रहा है। नित्यलीला गोस्वामी रणछोड़ाचार्य प्रथमेश महाराज द्वारा भी पूर्व में हुए शिला पूजन में शिला अयोध्या भेजी थी। अब वर्तमान पीठाधीश्वर लालमणि महाराज तथा युवराज मिलन कुमार गोस्वामी ने भी झारीजी का जल और राशि भेजी है।

श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षैत्र के नाम का यह चैक विश्व हिन्दु परिषद के प्रान्त संरक्षक हौसलाप्रसाद शुक्ला, ओमप्रकाश गुप्ता, प्रान्त सम्पर्क प्रमुख राजेन्द्र जैन, महानगर मंत्री सुधीर कुमार ताम्बी, गोदावरी धाम के गजेन्द्र भार्गव ने मंदिर पर पहुंचकर प्राप्त किया।