कोरोना संक्रमित पाए जाने पर सिर्फ उसी मकान को बंद किया जाए: व्यापार महासंघ

0
280

कोटा। कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन एवं महासचिव अशोक माहेश्वरी ने जिला प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमित मरीज की आवास के साथ साथ उसके आसपास के प्रतिष्ठानों को भी बंद करवाए जाने को अनुचित बताते हुए आज एडीएम सिटी आरडी मीणा से बात कर प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपा। जिसके तहत मांग की गई कोरोना पोजेटिव मरीज के आवास को ही लगाकर बंद किया जाए। प्रदेश में अन्य शहरों में यही प्रक्रिया अपनाई जा रही है।

उन्होंने पुरानी सब्जी मंडी क्षेत्र का उदाहरण देते हुए बताया कि क्षेत्र में एक परिवार के 2 सदस्य 15 दिन पूर्व कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उसके मकान के साथ साथ आसपास की 8 दुकानों को भी बेरिकेट लगाकर बंद कर दिया गया। परसो उसी परिवार का एक और सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाया गया जिस पर वहां फिर 14 दिन के लिए बेरिकेट लगा दिया जाएगा। ऐसे तो पूरे महीने व्यापारियों को भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ेगा। उनका व्यापार पूरी तरह से हो चोपट जाएगा। इस पर पुनः विचार किया जाए, जिससे व्यापारियों को राहत मिल सके।

कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष जैन एवं महासचिव माहेश्वरी ने शहर में बढ़ते कोरोना वायरस सक्रमण को देखते हुए सभी व्यापार संघों को अपने-अपने क्षेत्रों में जनजागृति अभियान चलाए जाने की अपील की है। इसी के तहत आज छावनी चौराहा दुकानदार संघ द्वारा क्षेत्र के हर प्रतिष्ठान पर कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के सुरक्षा उपायों के पोस्टर लगाकर दुकानदारों को जागरूक किया।

कोरोना संक्रमण रोकने के लिए पोस्टर
इस अवसर पर महासंघ के महासचिव माहेश्वरी द्वारा कोरोना संक्रमण रोकने से संबंधित पोस्टर का विमोचन किया गया। छावनी चौराहा दुकानदार संघ के अध्यक्ष यश मालवीय एवं महासचिव नरेंद्र चौहान ने बताया कि आज महासंघ के महासचिव अशोक माहेश्वरी के साथ क्षेत्र की सभी दुकानों के बाहर यह पोस्टर लगाए गए जिससे दुकानदारों के साथ साथ ग्राहकों को भी जनजागृति पैदा की जा सके। ।