ऑक्शन में सबसे महंगे हाड़ौती के दुर्लभ सिक्के

0
549

काेटा। देशभरमें हाड़ौती की कला-संस्कृति में अपनी खास पहचान है। इसी शृंखला में बैंगलुरू में 30 जुलाई को होने वाले क्वाइन ऑक्शन में हाड़ौती के दुर्लभ सिक्कों की रेट सबसे अधिक निकलकर आई है। जो देश-प्रदेश के अन्य सिक्कों से कहीं गुना अधिक है।

इनमें बूंदी के दो दुर्लभ सिक्कों की रेट 33 से 35 हजार और कोटा के दो ग्राम वजनी सिक्कों की रेट साढ़े चार हजार से पांच हजार तक ऑक्सन में निकलकर आई है। बैंगलुरू में 30 जुलाई को होने वाले ऑक्शन में सिक्के लेकर लोग पहुंचाएंगे।

बैंगलुरु में 30 जुलाई को होगी दुर्लभ सिक्कों की नीलामी

बूंदी रियासत के पुराने दुर्लभ सिक्के

क्वाइन कलेक्टर और एक्सपर्ट शुभम लोढ़ा ने बताया कि दादाजी के समय के उनके पास इस तरह के बूंदी और कोटा के प्राचीन सिक्के उनके संग्रह में शामिल है। उल्लेखनीय है कि सरकार ने इनके ऑक्शन पर भी जीएसटी लगा दिया है। जो पांच से लेकर 12 प्रतिशत है।

क्वाइन एक्सपर्ट लोढ़ा ने बताया कि ऑक्शन में ग्वालियर के जीवाजी राव का पाव आने का सिक्का 1250 से 1500 रुपए का तांबे का सिक्का है। हैदराबाद के तांबे का सिक्का एक आने का मीर उस्मान अली खां का सिक्का 1000 से 1200 रुपए है। इसी तरह इंदौर के शिवाजी राव होल्कर गाय का प्रिंट का सिक्का जो आधे आने का 500 से 600 रुपए है।

जयपुर के रामसिंह के समय का चांदी का एक बटा चार सिक्का जिसके पीछे क्वीन विक्टोरिया का नाम लिखा है जो 1200 से 1400 रुपए है। इसी तरह जैसलमेर के रंजीत सिंह का चांदी का सिक्का जो मुहम्मद शाह का सिक्का है जिसकी वैल्यू 2 हजार से 2200 रुपए तक है। वहीं किशनगढ़ के चांदी का सिक्का 1000 से 1500 रुपए है।

हाड़ौती में बूंदी के सिक्कों की रेट सबसे अधिक
बैंगलुरु ऑक्शन में झालावाड़ के तीन सिक्के जो राजा भदन सिंह के नाम से है जिसके पीछे रानी विक्टोरिया का नाम है। जो 2000 से 2500 रुपए है। वहीं बूंदी का सिक्का जो रामसिंह का है जिसका वजन 10.64 मिली ग्राम है। इसकी रेट 3500 से 4 हजार रुपए है।

वहीं बूंदी के दो दुर्लभ सिक्के रुपए और आधा रुपए रामसिंह के नाम से सिक्का है जो 33 से 35 हजार रुपए की वैल्य है। इसी तरह कोटा के सिक्कों की भी चमक फीकी नहीं है। यहां के दो ग्राम, तीन ग्राम और ढाई ग्राम वजनी सिक्का जो राजा बहादुरशाह द्वितीय और क्वीन विक्टोरिया के नाम से है।

इसकी रेट 4500 से पांच हजार रुपए है। वहीं चांदी के पांच सिक्के जिन पर मोहम्मद अकबर द्वितीय बहादुरशाह द्वितीय नाम से है इनकी वैल्यू 4500 से पांच हजार रुपए है।