कोटा में कोरोना का कहर, एक ही दिन में 24 पॉजिटिव मिले, एक की मौत

0
87

कोटा। शहर में कोरोना का कहर मंगलवार को भी जारी रहा। शाम को पांच और कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है, जबकि सुबह एक साथ 19 नए मरीज मिले थे। इस तरह एक दिन में 24 मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 189 तक पहुंच गई है।

शाम को सामने आए 5 कोरोना पॉजिटिव में दो आकाशवाणी कॉलोनी की महिलाएं हैं। जबकि तीन लोग सुकेत की सड़क निर्माण कंपनी के सदस्य हैं। सुबह सामने आए कोरोना पॉजिटिव में 8 इंदिरा मार्केट और दस बजाजखाना के थे। जबकि शिवपुरा निवासी एक कोरोना पॉजिटिव की मौत भी हुई।

आकाशवाणी कॉलोनी और खेड़ली फाटक में भी 3 मई तक कर्फ्यू
कोरोना के पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद अब आकाशवाणी कॉलोनी व भीमगंजमंडी क्षेत्र के खेड़ली फाटक में भी 3 मई को सुबह 6 बजे तक के लिए कर्फ्यू लगा दिया है। अब शहर में करीब 9 इलाकों में कर्फ्यू लग चुका है। इससे पहले रविवार को बोरखेड़ा क्षेत्र में कर्फ्यू लगाया गया था। आकाशवाणी इलाके में कोराना पॉजिटिव मिलने के बाद यहां मकान नंबर-16 ए के पीछे को केन्द्र बिन्दु मानते हुए एक किलाेमीटर के क्षेत्र में कर्फ्यू लागू कर दिया है।

वहीं भीमगंजमंडी क्षेत्र के खेड़ली फाटक में छोटू जी की बाड़ी का मकान को केंद्र मानते हुए 1 किमी के दायरे में कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। इससे पहले भीमगंजमंडी के तेलघर में कर्फ्यू लगाया गया था। इसके बाद चंद्रघटा का मकबरा सहित तीनों थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाया गया था। कोराना पॉजिटिव केस बढ़ने के बाद बजाजखाना क्षेत्र में भी कर्फ्यू में शामिल किया गया था। इसी प्रकार कैथूनीपोल मोखापाड़ा, अनंतपुरा, दादाबाड़ी शिवपुरा में भी कर्फ्यू लगाया जा चुका है। अब रविवार को बोरखेड़ा में कर्फ्यू लगाने के बाद सोमवार को आकाशवाणी कॉलोनी नयापुरा व खेड़ली फाटक में कर्फ्यू लगाया गया है।

संक्रमण को रोकने के लिए भी चल रहे प्रयास
कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए कोटा नगर निगम का सोडियम हाइपोक्लोराइड के छिड़काव का अभियान निरन्तर जारी है। निगम के प्राधिकारी वासुदेव मालावत ने बताया कि अभियान के तहत मंगलवार को भी फायर टेण्डर मशीन, जेटिंग मशीन, हाथ स्प्रे मशीनों व ट्रैक्टरों के जरिये शहर के विभिन्न बस्ती-बाजारों, सडकों व गलियों में सेनेटाइजेशन की कार्यवाही की गई और 46 हजार 100 लीटर सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिड़काव किया गया। उन्होंने बताया कि अभी तक कुल 17 लाख 28 हजार 60 लीटर सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिडकाव शहर के बस्ती-बाजारों में किया जा चुका है।