यूनिवर्सिटी में जीएसटी पढ़ाया जाए : कल्याण सिंह

0
75

प्रधानमंत्री का सपना है कि युवा रोजगार हासिल करने की जगह रोजगार देने वाला बने।

कोटा । कोटा यूनिवर्सिटी के कनवोकेशन की अध्यक्षता करते हुए राज्यपाल कल्याण सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय में जीएसटी पढ़ाया जाए। आने वाले पांच साल में जीएसटी का सकारात्मक असर देश में नजर आएगा। 

राज्यपाल यहाँ गुरुवार को यूआईटी ऑडिटोरियम में आयोजित कोटा यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने टॉपर्स को मेडल भी प्रदान किये। 

राज्यपाल ने शिक्षकों की सलाह दी है कि अपने अधिकारों के लिए शिक्षक जनप्रतिनिधियों को लेकर संघर्ष करें, लेकिन हड़ताल नहीं। प्रधानमंत्री का सपना है कि युवा रोजगार हासिल करने की जगह रोजगार देने वाला बने। उन्हाेंने कहा कि जिसके हाथ काम, उसके हाथ दाम और आंगन में खुशहाली। उसके हाथ खाली, उसकी जेब खाली और आंगन में कंगाली।

उन्होंने स्टूडेंट्स को सलाह दी कि वह नकल से दूर रहे। नकल करने से नंबर जाएंगे, पर प्रतिभा का विकास नहीं होगा। राज्यपाल ने आह्वान किया कि सभी को देश, शहर, मोहल्ले और गांव के लिए कुछ कुछ करना चाहिए। उन्होंने दो लोगों को साक्षर बनाने की बात भी कही।

दीक्षांत समारोह में अपनी पुत्री को मिले मैडल को चूमते हुए उसकी मां.

राज्यपाल बोले-आज के समय में ईमानदारी कठिन काम है, लेकिन इस पर खरा उतरना होगा। अंत में कहा कि जैसा जिसका आचरण होगा, वैसी ही उसकी आकृति होगी।

 यूनिवर्सिटी के वीसी प्रो. पीके दशाेरा ने स्वागत भाषण देते हुए यूनिवर्सिटी का प्रगति प्रतिवेदन पढ़ा। इससे पहले यूनिवर्सिटी के कुलगीत काे रिलीज किया गया।

लॉ में एडिशन की भ्रांतियां दूर, अब होंगे एडमिशन
उच्च तकनीकी शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने कहा कि लॉ कॉलेज में एडमिशन को लेकर चल रही भ्रांतियां दूर हो गई है। अब लॉ कॉलेज में बिना किसी दिक्कत के छात्रों को एडमिशन मिलेगा। उन्होंने कहा कि पीजी और यूजी में अब ऑनलाइन एडमिशन हो रहे हैं।

स्किल डवलपमेंट के सेंटर्स खोले जा रहे हैं। यूनिवर्सिटी काे नैक से राशि मिलने के बाद यूनिवर्सिटी का और भी डवलपमेंट होगा। 12 नए राजकीय महाविद्यालय भी खोले गए हैं। उन्होंने कॉलेज यूनिवर्सिटी से जीएसटी के प्रचार प्रसार की बात कही।