वेतनमान समझौते की मांग पर बैंक कर्मियों ने प्रदर्शन किया

0
494
  • शीघ्र वेतनमान समझौता नहीं हुआ तो बैंक कर्मी हड़ताल करेंगे
  • आज से नियमानुसार काम शुरू, अतिरिक्त सहयोग बंद

कोटा। यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के आव्हान पर सोमवार को बैंक कर्मियों एवं अधिकारियों ने तुरंत वेतनमान संशोधन समझौता लागू करने की मांग पर नियमानुसार काम शुरू किया। अतिरिक्त सहयोग बंद किया तथा शाम को भारतीय स्टेट बैंक की एरोड्राम चौराहा शाखा के समक्ष विशाल प्रदर्शन किया।

प्रदर्शन में दो साल से भी ज्यादा समय से लंबित वेतन समझौता शीघ्र सम्पन्न करने,5 दिवसीय बैंकिंग लागू करने। विशेष भत्ते को मूल वेतन में जोड़ने, नई पेंशन योजना बंद कर पुरानी लागू करने, रिज़र्व बैंक की तरह पेंशन अपडेशन करने, पारिवारिक पेंशन में सुधार करने, परिचालन लाभ पर स्टाफ कल्याण फण्ड की गणना करने, सेवांत लाभ को बिना किसी सीमा के आयकर मुक्त करने, अवकाश बैंक शुरू करने,निविदा कर्मियों/बिज़नेस कररेस्पोंडेंट्स को समान कार्य का सामान वेतन देने संबंधित मांगों के समर्थन में नारे लगाए गए।

बैंक कर्मी नेताओं अशोक ढल,ललित गुप्ता,रमेश सिंह,विपिन चोरायवाल, पदम पाटोदी, डी एस साहू,आर बी मालव, संजीव झा,पी सी गोयल,अनिल ऐरन,डी के गुप्ता, हेमराज सिंह गौड़, यतीश शर्मा,अधिकारी नेताओं प्रकाश दवे, हेमराज धाकड़ सेवा निवृत्त बैंक कर्मी नेता डी एल वर्मा व राम सिंह हाड़ा ने उक्त मांगो को लेकर होने वाली 31 जनवरी,1 फरवरी ,11से13 मार्च व 1 अप्रेल से होने वाली अनिश्चितकालीन बैंक हड़ताल एवम इनसे संबंधित कार्यक्रमों को सफल बनाने का आव्हान किया।