हैकर्स आपका दिमाग पढ़कर भी पासवर्ड और पिन कर सकते हैं हैक

0
47

मुंबई । हर कोई अपने अकाउंट्स को सुरक्षित रखने के लिए पासवर्ड लगाता है। चाहें वो फिर कंप्यूटर हो या स्मार्टफोन। पासवर्ड से इनमें मौजूद किसी भी निजी फाइल को सुरक्षित रखा जा सकता है। ये सभी पासवर्ड आपके दिमाग में सेव रहते हैं, लेकिन जरा सोचिए अगर हैकर्स आपके दिमाग से ही पासवर्ड चुरा लें तो आप क्या करेंगे।

सुनने में अजीब जरुर लगेगा, लेकिन हाल ही में आई एक रिपोर्ट के मुताबिक, एक खास तरह का हेडसेट इस्तेमाल करने पर हैकर्स आपके दिमाग से ही पिन और पासवर्ड्स पढ़ लेंगे।

बर्मिंघम की यूनिवर्सिटी ऑफ अलबामा के रिसर्चर्स की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि इलेक्ट्रोएक्नेफैलोग्राफ (EEG) एक ऐसा हेडसेट है जिसे अगर कोई यूजर इस्तेमाल करता है तो हैकर्स उसके दिमाग से सारे पासवर्ड और पिन हैक कर सकते हैं।

इस हेडसेट को पहनकर यूजर्स अपने दिमाग से रोबॉटिक खिलौने और वीडियो गेम्स को कंट्रोल कर सकते हैं। ऐसे में वैज्ञानिकों का मानना है कि इसका और भी ज्यादा सुरक्षित होना जरूरी है।

हैक हो सकती है जानकारी अगर कोई व्यक्ति EEG हेडसेट पहकर वीडियो गेम खेल रहा है और उसी बीच वो अपनी बैंकिंग वेबसाइट पर जाता है और उसे लॉगइन कर लेता है तो हैकर्स उसी समय पासवर्ड या पिन जैसी निजी जानकारी को हैक कर सकते हैं।

इस तरीके से ऐसी जानकारियों को हैक करने के लिए हैकर्स एल्गोरिथम पैटर्न का इस्तेमाल करते हैं। इस पैटर्न के जरिये हैकर्स 10000 पैटर्न को 20 तक सीमित कर लेते हैं। इससे पासवर्ड या पिन हैक करना आसान हो जाता है।

यूनिवर्सिटी ऑफ अलबामा के प्रोफेसर नितेश सक्सेना ने बताया, ‘यह टेक्नोलॉजी लोगों के जीवन में अच्छे अवसर ला रही है, लेकिन इसके साथ ही सुरक्षा पर खतरा बढ़ता जा रहा है।

‘इसे साबित करने के लिए वैज्ञानिकों ने यूजर्स पर ऐसे 12 हेडसेट को टेस्ट किया है। इस दौरान यह देखा गया कि यह हेडसेट किस तरह पासवर्ड टाइप करते समय लोगों के हाथ, आंख, सिर की गति और उनके विजुअल प्रोसेसिंग को कैप्चर करता है।