चौतरफा बिकवाली से सेंसेक्स 289 अंक फिसला, निफ्टी 11,850 से नीचे

0
292

नई दिल्ली। वैश्विक संकेतों से निवेशकों में छाई चौतरफा बिकवाली के कारण भारतीय शेयर बाजार शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन गिरावट के साथ बंद हुए। बंबई स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 289 अंकों की गिरावट के साथ 39,452 अंकों पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों का संवेदी सूचकांक निफ्टी 90 अंकों की गिरावट के साथ 11,850 अंकों के स्तर से गिरकर 11,823 अंकों पर बंद हुआ। सेंसेक्स में बैंकिंग सेक्टर के शेयरों में सबसे ज्यादा 462 अंकों की गिरावट दर्ज की गई।

भारत की ओर से 29 अमेरिकी उत्पादों पर इंपोर्ट टैरिफ लगाने के संकेतों से निवेशकों में घबराहट का माहौल दिखा। इस कारण निवेशकों ने जमकर बिकवाली की। इसका असर यह दिखा कि अधिकांस सेक्टोरियल इंडेक्स गिरावट के साथ लाल निशान में बंद हुए। सेंसेक्स में सबसे ज्यादा गिरावट बैंकिंग सेक्टर में दिखी। बैंकिंग सेक्टर के शेयर 462 अंकों की गिरावट के साथ 34,352 अंकों पर बंद हुए। इसके अलावा ऑटो सेक्टर में 191, हेल्थकेयर सेक्टर में 108, कंज्यूमर ड्यूरेबल सेक्टर में 167 अंकों की गिरावट दर्ज की गई।

ये रहा निफ्टी का हाल
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में भी सेंसेक्स जैसा हाल रहा। निफ्टी में सभी सेक्टोरियल इंडेक्स गिरावट के साथ लाल निशान में बंद हुए। निफ्टी में सबसे ज्यादा 2.24 फीसदी की गिरावट मीडिया सेक्टर के शेयरों में दर्ज की गई। इसके अलावा रियल्टी सेक्टर में 2.10 फीसदी, प्राइवेट बैंक 1.36 फीसदी, एफएमसीजी सेक्टर 1.28 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुए।