NEET के माध्यम से होंगे देशी चिकित्सा पद्धति में दाखिले

0
91

लखनऊ। आयुर्वेद, यूनानी और होम्योपथी की प्रवेश परीक्षाएं अब NEET के माध्यम से कराई जाएंगी। इसके लिए आयुष मंत्रालय भारत सरकार ने औपचारिक आदेश जारी कर दिया है। सभी राज्यों को इसकी जानकारी दे दी गई है। आदेश को लेकर जहां कॉलेज प्रबंधन ने चुप्पी साध रखी है, वहीं स्टूडेंट्स ने आदेश का स्वागत किया है।

आयुर्वेद, यूनानी और होम्योपथी में प्रवेश लेने वाले छात्रों को अब ज्यादा मेहनत करनी होगी क्योंकि उनका मुकाबला देशभर के छात्रों के साथ होगा। भारत सरकार के आयुष मंत्रालय के आदेश के तहत अब आयुष पाठ्यक्रम में प्रवेश भी NEET (नैशनल एलिजिबिलीटी कम इंट्रेंस टेस्ट) के माध्यम से होंगे।

आयुर्वेद निदेशक प्रो. आरआर चौधरी ने बताया कि BMMS, BUMS, BHMS आयुष स्नातक पाठ्यक्रम में 2017-18 के अन्तर्गत NEET की मेरिट लिस्ट को शामिल (अडॉप्ट) किए जाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि छात्र अग्रिम सूचनाएं विभाग की वेबसाइट www.sclko.org पर ले सकते हैं।