वेब सीरीज ‘कोटा फैक्ट्री’ की पहली स्क्रीनिंग के लिए कोटा आए कलाकार

0
316

कोटा। वेब सीरीज ‘कोटा फैक्ट्री’ की पहली स्क्रीनिंग के लिए सोमवार को कलाकार कोटा पहुंचे। उन्होंने मिडिया से रूबरू होते हुए वेब सीरीज को लेकर अपने अनुभव शेयर किये।
‘कोटा फैक्ट्री’ वैभव (मयूर मोरे) की कहानी है। यह 16 वर्षीय विद्यार्थी जेईई क्लियर करके आईआईटी में दाखिला पाने की उम्मीद के साथ कोटा आता है। कोटा फैक्ट्री में जितेंद्र कुमार (जीतू), अहसास चन्ना (शिवानी), रेवती पिल्लई (वर्तिका), आलम खान (उदय) और रंजन राज (मीना) प्रमुख भूमिका निभा रहे हैं।

ऐसा माना जाता है कि आईआईटी की प्रवेश परीक्षा भारत में किसी भी अन्य परीक्षा के मुकाबले ज्यादा कठिन है। लेकिन फिर भी देश के लाखों विद्यार्थी बार-बार पढ़ाई और पुनरावृत्ति एवं परीक्षाओं की तैयारी करके अपने सपनों को जीवित रखने का प्रयास करते हैं। द वायरल फीवर (टीवीएफ) ने नई आधुनिक ड्रामा सीरीज़, कोटा फैक्ट्री के लिए अनअकेडमी के साथ सहयोग किया है।

यह ड्रामा सीरीज़ आईआईटी प्रत्याशियों की जिंदगी, कोचिंग सेंटर के उद्योग एवं विद्यार्थी के जीवन में होने वाले परिवर्तनों के इर्दगिर्द घूमती है। एक कदम आगे बढ़ाते हुए यह सीरीज़ ‘ब्लैक एवं व्हाइट’ में रिलीज़ की जाएगी। शो के कलाकारों के साथ शो के निर्देशक राघव सुब्बू आज पीवीआर सिनेमा में शो की पहली स्क्रीनिंग के लिए कोटा आए।

जितेंद्र कुमार प्रोफेसर की भूमिका में दिखाई देंगे। उन्होंने कहा, ‘‘कोटा फैक्ट्री के साथ अनेक भावनाएं जुड़ी हैं। यह मेरे लिए एक अद्भुत अनुभव है। जब मैं कोटा में पढ़ रहा था, तो मैं अपने टीचर्स की नकल किया करता था और हम सब काफी हंसी मजाक करते थे। वहीं से मेरे अभिनय की शुरुआत हुई। इतने सालों के बाद कोटा के टीचर का किरदार निभाकर वो सभी पुरानी यादें ताजा हो गईं।

कोटा फैक्ट्री अपनी तरह का अलग शो है, जो प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों की भावनाओं और उनकी जिंदगी को समझता है। मुझे उम्मीद है कि दर्शकों को यह शो बहुत पसंद आएगा।’’ कोटा आने पर अहसास चन्ना ने कहा “स्क्रीनिंग के लिए कोटा वापस आ के बहुत अच्छा लग रहा है । इस शहर में हमारी बहुत सी यादें हैं और यहां शूटिंग करना एक अद्भुत अनुभव था।

मुख्य भूमिका निभाने वाले मयूर मोरे ने कहा, ‘‘कोटा फैक्ट्री को मेरे किरदार वैभव की दृष्टि और जीवन से देखा गया है। वह विद्यार्थी के जीवन के इस पक्ष के उतार चढ़ाव को प्रदर्शित करता है। इस शो के साथ जुड़ने का मुझे बेहतरीन अवसर मिला और मुझे उम्मीद है कि दर्शक इस शो को बनाने में लगाए गए सभी प्रयासों की सराहना करेंगे।’’

कोटा फैक्ट्री टीवीएफ की ओरिज़नल सीरीज़ है, जिसका निर्देशन राघव सुब्बू ने किया है। इस कहानी में विद्यार्थी जीवन की सबसे कठिन परीक्षा, आईआईटी की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों के परीक्षणों, समस्याएं और रोजमर्रा के दबावों का प्रदर्शन किया गया है। कोचिंग सेंटर के अलग-अलग प्रोफेसर, चीटिंग और आसान तरीके तलाशने की उत्सुकता सहित कोटा फैक्ट्री में आईआईटी आकांक्षी के जीवन का हर पहलू दिखाया गया है।