कंपनियों के तिमाही नतीजे तय करेंगे इस सप्ताह शेयर बाजार की चाल

0
172

नई दिल्ली। भारतीय शेयर बाजारों में अगले सप्ताह उतार-चढ़ाव का रुख जारी रहने के आसार हैं। इसका कारण है कि निवेशक अप्रैल-मई के वायदा और विकल्प खंड में अपनी स्थिति तय करेंगे। जबकि अप्रैल की एफएंडओ (वायदा-विकल्प) निविदा की समाप्ति गुरुवार (25 अप्रैल) को हो रही है।

इसके अलावा वैश्विक बाजारों के रुख, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) व घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, घरेलू व वैश्विक बाजारों के व्यापक आर्थिक आंकड़े, प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे, डॉलर के खिलाफ रुपए चाल व कच्चे तेल की कीमतों के प्रदर्शन का भी घरेलू शेयर बाजारों पर असर होगा।

यूरोपीय शेयर बाजार सोमवार (22 अप्रैल) को ईस्टर की छुट्टी के कारण बंद रहेंगे। अगले सप्ताह जिन प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे जारी होंगे, उनमें एसीसी अपने जनवरी-मार्च तिमाही के नतीजे मंगलवार (23 अप्रैल) को जारी करेगी।

भारती इंफ्राटेल और अल्ट्राटेक सीमेंट जनवरी-मार्च तिमाही के नतीजे बुधवार (24 अप्रैल) को जारी करेंगे। मारुति सुजुकी इंडिया जनवरी-मार्च तिमाही के नतीजे गुरुवार (25 अप्रैल) को जारी करेगी।

25 अप्रैल को ब्याज दरों की घोषणा करेगा बैंक ऑफ जापान
एक्सिस बैंक, हीरो मोटोकॉर्प और यस बैंक जनवरी-मार्च तिमाही के नतीजे शुक्रवार (26 अप्रैल) को जारी करेंगे। राजनीतिक मोर्चे पर, आम चुनाव सात चरणों में चल रहा है, जिसकी शुरुआत 11 अप्रैल को हुई और 19 मई तक चलेगी।

वोटों की गिनती 23 मई को की जाएगी और नतीजे भी इसी दिन जारी किए जाएंगे। वैश्विक मोर्चे पर, बैंक ऑफ जापान और बैंक ऑफ कनाडा की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक गुरुवार (25 अप्रैल) को होगी और ब्याज दरों को लेकर नीतिगत घोषणा इसी दिन की जाएगी।