Google Chrome ऐंड्रॉयड ऐप को मिला डार्क मोड

0
175

नई दिल्ली।गूगल पिछले काफी वक्त से अपने ऐप्स के लिए डार्क मोड टेस्ट कर रहा था और अब यह फीचर क्रोम ब्राउजर के लेटेस्ट स्टेबल अपडेट में अवेलेबल है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऐंड्रॉयड क्रोम ऐप में यह फीचर लेटेस्ट अपडेट डाउनलोड करने वाले यूजर्स को मिल रहा है। साथ ही इस डार्क मोड से अलग एक नए रीडर मोड की टेस्टिंग भी गूगल अपने ब्राउजर में कर रहा है। यह रीडर मोड फिलहाल डेस्कटॉप यूजर्स के लिए ही क्रोम कैनरी पर अवेलेबल होगा।

रीडर मोड में पेज से सभी गैरजरूरी कंटेंट भी हट जाएगा और केवल आर्टिकल टेक्स्ट और इमेज ही पेज पर दिखाई देंगी। साथ ही, आखिरकार गूगल मैन-इन-द-मिडिल (MiTM) फिशिंग अटैक्स को रोकने के लिए ब्राउजर फ्रेमवर्क को बेहतर बनाने का काम कर रहा है।

जैसा कि बताया गया है, ऐंड्रॉयड पुलिस की रिपोर्ट में भी कहा गया कि क्रोम के ऐंड्रॉयड ऐप पर आखिरकार डार्क मोड का सपॉर्ट यूजर्स को मिल रहा है। यह मोड क्रोम v74 फॉर ऐंड्रॉयड रिलीज में अवेलेबल है। हालांकि, भारत में प्लेस्टोर पर v73 ही अवेलेबल दिख रहा है।

लेटेस्ट अपडेट की एपीके फाइल डाउनलोड करने पर इंस्टॉल करते वक्त ऐंड्रॉयड 8.1 और 9.0 दोनों में कुछ एरर मेसेज दिखा रहा है। हो सकता है गूगल डार्क मोड टॉगल को इनेबल करने के लिए यूजर्स को अभी ऐंड्रॉयड नाइट मोड फ्लैग इनेबल करना पड़े।

हो सकता है कि आपके डिवाइस पर लेटेस्ट अपडेट एपीके फाइल से डाउनलोड हो जाए, तो आप एक कोशिश जरूर कर सकते हैं। सबसे पहले डार्क मोड फीचर फरवरी में दिखा था और टेस्टिंग फेज में था। तब इसे मैक और ऐंड्रॉयड दोनों के लिए टेस्ट किया जा रहा था और मैक को भी एक महीने पहले यह अपडेट मिल चुका है।

बताते चलें, गूगल ने हाल ही में पासवर्ड चेकअप क्रोम एक्सटेंशन ऐड किया है। अब जल्द ही ब्राउजर को ‘lookalike URLs’ फीचर भी दिया जा सकता है। कहा जा रहा है कि सर्च इंजन गूगल नए Never Slow Mode पर भी काम कर रहा है, जिससे क्रोम यूजर्स को बेहतर और फास्ट ब्राउजिंग एक्सपीरियंस दिया जा सके।

यह फीचर रिसोर्स लोडिंग और रनटाइम प्रोसेसिंग को रिस्ट्रिक्ट करेगा जिससे वेबपेज तेजी से लोड हो जाएंगे। फिशिंग अटैक्स रोकने के लिए गूगल एंबडेड ब्राउजर फ्रेमवर्क से लॉग-इन को बंद करने पर भी काम कर रहा है।