स्टूडेंट्स बोर्ड परीक्षा के साथ-साथ जेईई-मेन की परीक्षा भी दे सकेंगे

0
282

कोटा। देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन 7 से 12 अप्रैल के बीच देश के 273 शहरों और विदेश में 9 शहरों में होगी। इसमें 10 लाख से अधिक स्टूडेंट्स के शामिल होने की संभावना है। परीक्षा के प्रवेश पत्र 20 मार्च को जारी कर दिए थे। प्रवेश पत्र जारी होने के साथ ही एनआईओएस बोर्ड के कुछ स्टूडेंट्स असमंजस में आ गए थे।

इसका कारण जेईई-मेन परीक्षा के साथ 8 एवं 12 अप्रैल को बोर्ड का हिन्दी और अंग्रेजी का पेपर होना था। ऐसे स्टूडेंट्स को जेईई-मेन एनटीए द्वारा उनकी परीक्षा की दिनांक को देखते हुए उपयुक्त तिथियां एवं समय आवंटित कर बड़ी राहत दी है।

स्टूडेंट्स ने परीक्षा से संबंधित अपनी परेशानियों को जेईई-मेन को ई-मेल एवं व्यक्तिगत रूप से सूचित किया, इसके बाद जेईई-मेन द्वारा ऐसे स्टूडेंट्स की परीक्षा तिथियां एवं समय में बदलाव कर नए प्रवेश पत्र जारी कर दिए हैं। अब ये स्टूडेंट्स अपनी बोर्ड परीक्षा के साथ-साथ जेईई-मेन की परीक्षा भी दे सकेंगे।

एक्सपर्ट अमित आहूजा ने बताया जेईई मेन एनटीए द्वारा अप्रैल परीक्षा के लिए सेंटर लोकेटर जारी कर दिए हैं। इसके माध्यम से स्टूडेंट्स को परीक्षा के दिन सेंटर पर पहुंचने में काफी सुविधा होगी और स्टूडेंट्स अब इस विकल्प का उपयोग कर अपने सेंटर पर पहुंचने के समय के अनुरूप ही अपनी व्यवस्था कर सकता है।

पहले कई बार स्टूडेंट्स को परीक्षा केंद्रों में एक ही नाम के कई स्कूल या कॉलेज होने से असमंजस होता था जो अब नहीं होगा और स्टूडेंट्स निर्धारित समय पर सेंटर पर पहुंच जाएगा।