सरकार की अपील पर कंपनियों ने घटाए हाइब्रिड बीजों के दाम

0
62

नई दिल्ली। फसल की बेहतर कीमत को लेकर देशभर में आंदोलन कर रहे किसानों के लिए एक अच्छी खबर है। केंद्र सरकार की अपील पर बीज कंपनियों ने हाइब्रिड बीजों की कीमतों में 10 फीसदी कटौती का फैसला किया है। 19 जून से किसानों को अंकित मूल्य से 10 फीसदी कम मूल्य पर हाइब्रिड बीज मिलेंगे।

ज्यादातर सब्जियों, खाद्यान्न और धान में हाइब्रिड बीजों का इस्तेमाल होता है। अलबत्ता कपास के बीजों की कीमत में कोई कटौती नहीं की जाएगी क्योंकि यह पहले ही नियंत्रण के दायरे में है। हाइब्रिड बीजों की खुदरा कीमत 300 से 500 रुपये प्रति किलोग्राम है। 

इस पर प्रतिक्रया व्यक्त करते हुए किसान अधिकार मंच के प्रमुख अनंत जौहरी ने LEN-DEN NEWS को कहा कि ‘यह केवल दिखावा है क्योंकि कृषि लागत में बढ़ोतरी का मुख्य कारण खाद है। बीज का इसमें ज्यादा योगदान नहीं है। बीज कंपनियां 10 फीसदी कटौती की भरपाई के लिए धीरे-धीरे दाम बढ़ा देंगी।’

केंद्र सरकार ने साथ ही मुख्य दालों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में प्रति क्विंंटल 350 रुपये से लेकर 400 रुपये इजाफा करने का फैसला किया है जबकि धान के समर्थन मूल्य में प्रति क्विंंटल 80 रुपये की बढ़ोती की गई है। पिछले समर्थन मूल्य के मुकाबले दामों के कीमतें 7-8 फीसदी और धान की कीमत करीब 6 फीसदी बढ़ाई गई है।

साथ ही सोयाबीन के न्यूनतम समर्थन मूल्य में 275 रुपये प्रति क्विंंटल की बढ़ोतरी की गई है। ये सभी फैसले 2017-18 के खरीफ बुआई सत्र से लागू होंगे जो कि देश के कुछ हिस्सों में शुरू हो चुका है।