मनोहर पर्रिकर पंचतत्व में विलीन, बेटे ने दी मुखाग्नि

0
48

पणजी।गोवा के मुख्यमंत्री और देश के रक्षा मंत्री रहे मनोहर पर्रिकर का निधन रविवार को हुआ था। सोमवार को गोव के ही मीरामार बीच पर राजकीय सम्मान के साथ पर्रिकर का अंतिम संस्कार किया गया। पर्रिकर के शव पर पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद उन्हें गन सल्यूट भी दिया गया। मनोहर पर्रिकर के बेटे ने उनको मुखाग्नि दी।

इस दौरान देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अध्यक्ष अमित शाह, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और कई अन्य नेता मौजूद रहे। लंबे समय से कैंसर से जूझ रहे मनोहर पर्रिकर का निधन रविवार रात को गोवा में हुआ था। सोमवार को अंतिम दर्शन के लिए उनका शव कला अकैडमी रखा गया।

जहां से मीरामार बीच तक पर्रिकर की आखिरी यात्रा निकाली गई। इस दौरान पर्रिकर के दोनों बेटे भी मौजद रहे। पीएम मोदी ने भी उनके दोनों बेटों से मुलाकात की और उन्हें ढांढस बंधाया। मनोहर पर्रिकर की अंतिम यात्रा में पहुंचीं केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी भावुक हो गईं। उन्हें श्रद्धांजलि सभा में आंसू पोंछते देखा गया।

अपनी सादगी और सरलता के लिए चर्चित पर्रिकर की अंतिम यात्रा में लोगों का भारी हुजूम उमड़ा। हर कोई अपने सीएम का आखिरी दर्शन करने को आतुर दिखा। वहीं, देश की तमाम राजनीतिक पार्टियों के नेताओं ने भी पर्रिकर के निधन पर शोक जताया।

सरकार बनाने की कवायद भी तेज
मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री की कुर्सी खाली हो गई है। सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस है, जिसके पास 14 विधायक हैं। कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात करके सरकार बनाने का दावा भी पेश कर दिया है। वहीं, बीजेपी का कहना है कि सोमवार को ही नया मुख्यमंत्री शपथ ले लेगा। हालांकि, अभी इसपर कोई औपचारिक ऐलान नहीं हुआ है।