सेंसेक्स 70 अंक की तेजी के साथ 38,095 पर बंद, निफ्टी 11,450 के पार

0
188

नई दिल्ली। कारोबार सप्ताह के पहले दिन भारतीय शेयर बाजार दिनभर की बढ़त खोकर हरे निशान में बंद होने में कामयाब रहे। बंबई स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स इंट्रा डे में करीब 300 अंकों की बढ़त खोकर 70 अंकों की तेजी के साथ 38095 अंकों पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 35 अंकों की तेजी के साथ 11,462 अंकों पर बंद हुआ।

सुबह कारोबार की शुरुआत में सेंसेक्स ने तेज छलांग लगाई और यह 9.32 बजे 38,363 अंकों के स्तर तक पहुंच गया। यह इसका दिनभर का उच्चतम स्तर रहा। इसके बाद शुरू हुई मुनाफा वसूली के चलते सेंसेक्स कई बार लाल निशान में चल गया।

अंत में दिनभर के कारोबार के बाद सेंसेक्स 38,095 अंकों पर बंद होने में कामयाब रहा। इस प्रकार इंट्रा डे में सेंसेक्स ने करीब 300 अंकों की बढ़त गंवाई। सेंसेक्स में मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में बिकवाली का माहौल रहा और गिरावट के साथ लाल निशान में बंद हुए।

निफ्टी का हाल
कुछ ऐसा ही हाल निफ्टी की भी रहा। सुबह शुरुआती तेजी के बाद निफ्टी 11,502 के स्तर तक पहुंच गया था। लेकिन दिन के अंत में यह अपनी बढ़त खोते हुए 11,462 अंकों पर बंद हुआ। 50 शेयरों के संवेदी सूचकांक निफ्टी 31 शेयर हरे और 19 शेयर लाल निशान में बंद हुए। निफ्टी-50 मिडकैप और स्मॉलकैप शेयर भी गिरावट के साथ बंद हुए। निफ्टी में ऑटो, आईटी और फार्मा सेक्टर को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरियल इंडेक्स बढ़त के साथ हरे निशान में बंद हुए।

इन शेयरों में रही तेजी
सेंसेक्स में प्रेस्टीज में 16.23 फीसदी, टाटा स्टील में 9.92 फीसदी, बॉम्बे डाइंग में 9.08 फीसदी, जस्ट डायल में 7.47 फीसदी और डीबीएल में 6.67 फीसदी की तेजी रही। निफ्टी में कोटक बैंक में 4.65 फीसदी, आईओसी में 3.21 फीसदी, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम में 2.94 फीसदी, पावर ग्रिड में 2.88 फीसदी और विप्रों में 2.67 फीसदी की तेजी रही।

इन शेयरों में रही गिरावट
सेंसेक्स में आरकॉम में 9.52 फीसदी, मनपसंद बेवरेज में 5.78 फीसदी, स्टरलाइट टेक्नोलॉजी में 5.30 फीसदी, टीटीके प्रेस्टीज लिमिटेड में 5.19 फीसदी और इंडिया बुल्स इंटीग्रेटेड सर्विसेज में 4.99 फीसदी की गिरावट रही।

निफ्टी में हिन्दुस्तान यूनीलिवर में 2.09 फीसदी, यस बैंक में 1.92 फीसदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज में 1.33 फीसदी, आईटीसी में 1.32 फीसदी और भारती एयरटेल में 1.30 फीसदी की गिरावट रही।