150 कंपनियों के साथ फेसबुक ने की थी डाटा शेयर करने की डील

0
74

नई दिल्ली। सोशल मीडिया कंपनी Facebook ने Amazon, Apple, Microsoft, Sony जैसी तकरीबन 150 टैक कंपनियों के साथ अपने यूजर्स का डाटा शेयर करने की डील की थी। यह खुलासा न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक स्मार्टफोन और अन्य डिवाइस बनाने वाली कम से कम दो कंपनियों को न्यूयॉर्क के एक कोर्ट की ग्रैंड ज्यूरी ने नोटिस भेजा है।

इसमें पूछा गया है कि फेसबुक से डील के तहत जो यूजर डाटा उन्हें मिले उसका उन्होंने कैसे इस्तेमाल किया। डिवाइस बनाने वाली कंपनियों में Huawei, Lenovo और Oppo जैसी चाइनीज कंपनियां भी शामिल थीं। फेसबुक ने इन कंपनियों को करोड़ों यूजर्स का डाटा दिया था। इन कंपनियों के साथ डाटा शेयर करने के मामले में फेसबुक के खिलाफ आपराधिक जांच हो सकती है।

इससे पहले भी उठ चुका है फेसबुक पर सवाल
दिसंबर में भी न्यूयॉर्क टाइम्स में इस तरह की एक रिपोर्ट छपी थी। तब फेसबुक ने यह कहते हुए अपना बचाव करने की कोशिश की थी कि उस समय उसका अपना ऐप नहीं था। इसलिए अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर फेसबुक की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए डाटा शेयर किया गया था। फेसबुक ने कहा था कि ये डाटा विज्ञापनदाताओं के लिए शेयर नहीं किए गए। तब शेयर किए गए डाटा की पूरी तरह जांच भी की गई थी।

डाटा शेयरिंग के बारे में अनजान थे यूजर्स
इस डील के तहत लोगों को ब्लैकबेरी और विंडोज मोबाइल फोन जैसे प्लेटफॉर्म पर फेसबुक एक्सेस करने की सुविधा मिलती थी। बदले में प्लेटफॉर्म प्रदान करने वाली कंपनियों को यूजर से जुड़ा डाटा मिलता था। हालांकि, यूजर को ये पता नहीं होता था कि उनसे जुड़ा हुआ किस तरह का डाटा जमा किया गया या शेयर किया गया।

इनमें से ज्यादातर डील आज की तारीख में खत्म हो चुकी हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि डील के तहत इन कंपनियों को यूजर की फ्रेंड लिस्ट, कॉन्टैक्ट से जुड़ी सूचनाएं और अन्य डाटा उपलब्ध कराया गया था। कई बार ऐसा बिना यूजर की सहमति से होता था।