IDBI को सरकारी दर्जे से हटाकर अब प्राइवेट बैंक का दर्जा : RBI

0
428

नई दिल्ली। भारतीय रिज़र्व बैंक ने गुरुवार को आईडीबीआई बैंक को सरकारी दर्जे से हटाकर Private कर दिया है। यानी यदि आप सरकारी बैंक समझकर निवेश कर रहे हैं तो पहले इसके प्राइवेट होने के बारे में जरूर जान लीजिए। हालांकि प्राइवेट दर्जा मिलने के बाद आईडीबाई बोर्ड को ज्यादा अधिकार मिलेंगे और इससे कस्टमर को ज्यादा सुविधाएं मिलने की संभावना है।

आरबीआई भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) की 51 प्रतिशत इक्विटी हो गई है। इसलिए अब आरबीआई ने 21 जनवरी से बैंक को निजी क्षेत्र के बैंक के रूप में वर्गीकृत किया है। RBI ने यह भी कहा कि भारतीय स्टेट बैंक (SBI), ICICI बैंक और HDFC बैंक का भी दर्जा बदल दिया है।

अब इन्हें D-SIB कहा जाएगा। डी-एसआईबी का अर्थ है कि यह बैंक निवेश के लिहाज से सबसे ज्यादा सुरक्षित हैं। जिन बैंकों की संपत्ति जीडीपी के 2 प्रतिशत से अधिक है, उन्हें इस समूह का हिस्सा माना जाता है।