नीरव मोदी का एक अरब रुपए का अवैध बंगला आज से ढहाया जाएगा

0
282

मुंबई। 13 हजार करोड़ रुपए के पीएनबी घोटाले के आरोपी और फरार हीरा कारोबारी नीरव मोदी के अलीबाग स्थित बंगले को गिराने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। इसे 100 डायनामाइट का इस्तेमाल करके ढहाया जाएगा। सी-बीच के पास बने करीब 100 करोड़ रुपए के इस बंगले को तोड़ने का दूसरा चरण मंगलवार को ही शुरू हो गया था।

अब तक उन ढांचों को गिराया गया है जिनमें शीशे लगे थे। पहला चरण 25 जनवरी को शुरू हुआ था। तब कई दीवारें तोड़ी गई थीं। प्रशासन पिछले 6 हफ्तों से बंगला ढहाने की कोशिश में लगा है। लेकिन यह इतनी मजबूती से बना है कि इसे गिराना काफी मुश्किल हो रहा है। इसलिए अब प्रशासन ने इसे डायनामाइट से ढहाने का फैसला किया है।

33 हजार वर्ग फीट में फैला बंगला
नीरव का यह आलीशान बंगला 33 हजार वर्ग फीट में करीब 100 करोड़ की लागत से बना है। प्रशासन के मुताबिक, यह बंगला अवैध तरीके और तटीय मानदंडों का उल्लंघन कर बनाया गया। नीरव मोदी को 2011 में 376 वर्ग मीटर में यह बंगला बनाने की इजाजत मिली थी।

लेकिन उसने नियम तोड़ते हुए 1081 वर्ग में निर्माण करवाया। कई बेडरूम और हॉल वाले इस बंगले में फर्स्ट फ्लोर पर 1000 वर्ग फीट का स्वीमिंग पूल भी है। मोदी ने इस बंगले के बाहर अवैध तरीके से एक गार्डन भी बनवाया था।

रिमोट के जरिए होगा धमाका
गुरुवार को इसके पिलरों में छेद कर डायनामाइट लगाने का काम पूरा कर लिया गया। जानकारी के मुताबिक, इसे एक रिमोट के सहारे जोड़ा गया है और एक बटन के दबाते ही यह बंगाल जमीन पर आ जाएगा।

बंगला गिराने के खिलाफ दायर की थी याचिका
वहीं, बंगला गिराने के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। ईडी का कहना था कि यह पीएनबी घोटाले के मामले में जब्त संपत्तियों में है। हालांकि, बाद में एजेंसी ने इसे स्थानीय प्रशासन को सौंप दिया था।

हाईकोर्ट के आदेश पर की जा रही कार्रवाई
एक फरवरी को महाराष्ट्र सरकार ने बंबई हाईकोर्ट को बताया कि भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के अलीबाग स्थित अवैध बंगले को गिराने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। हाईकोर्ट ने अलीबाग में अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश जारी किया था।

पीएनबी घोटाले का मुख्य आरोपी है नीरव
नीरव मोदी पर मेहुल चौकसी के साथ मिलकर 13 हजार करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने का आरोप है। इस मामले में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय जांच कर रहे हैं। दोनों आरोपी देश छोड़कर भाग गए हैं।