सस्ता होने से सोने का स्टॉक बढ़ा रहे ज्वेलर्स

0
115

कोलकाता।गोल्ड मार्केट लगभग एक पखवाड़ा सुस्ताने के बाद चुस्त दिख रही है। सोने के दाम में 20 फरवरी के बाद 4.17% गिरावट आई है। इसके चलते ज्वेलर्स सोने का स्टॉक बढ़ाने में जुट गए हैं। बिजनस टु बिजनस लेवल पर पिछले हफ्ते चल रहा $2-3 प्रति औंस का डिस्काउंट खत्म हो गया है। यह गोल्ड मार्केट में तेजी आने का संकेत है।

बाजार के जानकारों को लग रहा है कि सोना इस हफ्ते के अंत तक 31,700 प्रति 10 ग्राम तक आ सकता है। मंगलवार को सोने का भाव ₹32,445 प्रति 10 ग्राम (GST बिना) पर चल रहा था।

बुलियन फर्म ऋद्धिसिद्धि बुलियन के डायरेक्टर मुकेश कोठारी कहते हैं, ‘लगभग 15 दिन बाद बाजार में कुछ हलचल दिख रही है। रुपये में भी काफी मजबूती आई है जिससे सोने के भाव में तेजी को सपॉर्ट मिल रहा है। लोगों ने अरसे बाद सोने की गहनों की खरीदारी शुरू की है।’

ग्लोब कैपिटल मार्केट के वाइस प्रेसिडेंट (रिसर्च) हिमांशु गुप्ता ने कहा, ‘इस हफ्ते के अंत तक सोने के दाम में गिरावट आ सकती है। भाव में गिरावट आने की तीन बड़ी वजहें हैं। पहली, बड़े पैमाने पर प्रॉफिट बुकिंग हो रही है। दूसरी, ऐसा लगता है कि व्यापारिक मामलों में अमेरिका और चीन के बीच हो रही बातचीत बाजार के लिए पॉजिटिव है। तीसरी बात, अमेरिकी इकनॉमी के डेटा खराब नहीं रहे हैं।’

कुछ ऐनालिस्टों का कहना है कि साल की शुरुआत में सोने में काफी पैसा लगाया गया था। उनके मुताबिक, ‘इन्वेस्टर्स टैरिफ में क्लैरिटी आने का इंतजार कर रहे थे। अब जबकि टैरिफ के मोर्चे पर उम्मीद की किरण नजर आ रही है। ऐसे में मुमकिन है कि कुछ समय के लिए ही सही, सेफ हेवेन के तौर पर सोने की चमक फीकी पड़ सकती है।’

जहां तक इंटरनेशनल मार्केट की बात है तो इन्वेस्टर्स दुनिया के सबसे गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड से कैश निकाल रहे हैं। उनकी सेलिंग की रफ्तार पिछले तीन साल में सबसे ज्यादा है क्योंकि ट्रेड से जुड़े टेंशन बायर्स को सेफ हेवेंस एसेट्स से निकलने पर मजबूर कर रहा है।

$33 अरब के SPDR गोल्ड शेयर्स ETF में शुक्रवार को $49.6 करोड़ की बिकवाली हुई थी, जो फरवरी 2018 के बाद एक दिन की सबसे बड़ी सेलिंग थी। इससे पिछले पांच दिन में फंड में हुई बिकवाली लगभग $72 करोड़ तक पहुंच गई। इस तरह पिछले हफ्ते SPDR गोल्ड शेयर्स ETF में लगातार चौथे सप्ताह कमजोरी का रुझान रहा।

HDFC सिक्यॉरिटीज के मुताबिक डॉलर इंडेक्स में मजबूती और अमेरिकी बॉन्ड्स की यील्ड में बढ़ोतरी के चलते इस हफ्ते सोने के भाव पर दबाव बढ़ सकता है। बाजार की नजरें शुक्रवार को आनेवाले अमेरिकी नॉन फार्म पेरोल डेटा पर होंगी।

सिल्वर के दाम में बदलाव सोने के भाव के हिसाब से होता है। इंटरनेशनल स्पॉट मार्केट में सिल्वर का दाम $15 प्रति औंस चल रहा है। इसमें कमजोरी की वजह चीन की ग्रोथ पर दबाव की चिंता से बेस मेटल में गिरावट आना और पैलेडियम का धराशायी होना है।