कृषि पर्यवेक्षक Exam: नकल गिरोह 7-7 लाख में Paper का सौदा करते पकड़ा

0
317

जयपुर। कृषि पर्यवेक्षक की रविवार को हुई लिखित परीक्षा के प्रश्न पत्र पहले ही अभ्यर्थियों को उपलब्ध करवाने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए सात जनों को गिरफ्तार किया है। देररात को एटीएस, एसओजी और करधनी पुलिस ने मिलकर के कालवाड़ अम्बा नगर स्थित एक मकान पर दबिश दी और सात आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लाखों रुपए, चेक व अन्य दस्तावेज बरामद किए हैं।

एसओजी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक करन शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी किशनगढ़ रेनवाल निवासी सुरेन्द्र चौधरी (25), शाहपुरा निठारा निवासी रामप्रसाद चौपड़ा (41), गोविंदगढ़ रणजीतपुरा निवासी ओमप्रकाश (25), खनीपुरा कालाडेरा निवासी कैलाश चंद यादव (24), गोविंदगढ़ बलेखण निवासी अनिल कुमार (35), रेनवाल रणजीतपुरा निवासी बन्नाराम (34) और काजीपुरा सांभर निवासी सुधीर कुमार चौधरी (24) को गिरफ्तार किया है। यह करधनी में करीब दो साल से मकान किराए पर ले रखे थे।

आरोपियों के पास करीब साढ़े 5 लाख रुपए नकद भी मिले हैं। वहीं प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि आरोपियों ने जेवीवीएनएल की परीक्षा में भी इसी तरह से धोखाधड़ी कर चुके हैं।अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक करन शर्मा, संजीव भटनागर, पुलिस निरीक्षक सूर्यवीर सिंह, शिवराज, मोहम्मद रफीक और करधनी थानाधिकरी मोहम्मद इस्लाम सहित टीम ने दबिश दी। आरोपियों के पास मिले सामान की जांच की गई।

वहीं उनकी निशानदेही पर वैशाली नगर व अन्य ठिकानों पर भी दबिश दी गई, लेकिन अन्य जगह कोई और पुलिस के हाथ नहीं लगा। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि आरोपी प्रश्न पत्र दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी कर रहे थे। जबकि उनके पास से किसी तरह का प्रश्न पत्र नहीं मिला है।

सात लाख रुपए में कर रहे थे सौदा
पिछले लम्बे समय से गिरोह फर्जीवाड़ा कर रहा था।यह कृषि पर्यवक्षक की परीक्षा का प्रश्नपत्र 7-7 लाख रुपए में सौदा कर रहे थे। यह झांसा देकर के कुछ राशि एडवांस में ले रहे थे और शेष राशि प्रश्नपत्र उपलब्ध करवाने के बाद लेने की कहते थे। इन्होंने अभ्यर्थियों को एग्जाम से पूर्व उपलब्ध करवाने और साथ में उत्तरों की भी जानकारी देने का झांसा दिया था।

जानकारी मिली है कि अभ्यर्थियों को झांसे में लाने के लिए रुपए नहीं होने पर कुछ राशि लेकर के उनसे खाली चैक ले लेते थे। टीम को मौके से 30 अभ्यर्थियों से संबंधित चैक व दस्तावेज मिले हैं। जिनकी जांच की जा रही है। वहीं करीब 5.48 लाख रुपए नकद, हस्ताक्षरशुदा चैक, खाली स्टाम्प, अभ्यर्थियों के दस्तावेज, ब्लू टूथ डिवाइश, प्रवेश पत्र सहित अन्य सामान मौके से बरामद हुए हैं।