भारत का विदेशी मुद्रा भंडार बढ़कर 399.21 अरब डॉलर

0
47

नई दिल्ली। देश का विदेशी मुद्रा भंडार गत 22 फरवरी को समाप्त सप्ताह में लगातार दूसरे सप्ताह की बढ़त दर्ज करता हुआ 94.47 करोड़ डॉलर बढ़कर 399.21 अरब डॉलर पर पहुंच गया। इससे पहले गत 15 फरवरी को समाप्त सप्ताह में यह 15 करोड़ दो लाख डॉलर बढ़कर 398.27 अरब डॉलर रहा था।

रिजर्व बैंक की ओर से शुक्रवार को जारी विदेशी मुद्रा भंडार के आकंड़ों के अनुसार,15 फरवरी को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा का सबसे बड़ा घटक विदेशी मुद्रा परिसंपत्ति 92.86 करोड़ डॉलर बढ़कर 371.99 अरब डॉलर पर पहुँच गयी। स्वर्ण भंडार भी 22.76 अरब डॉलर पर स्थिर रहा।

आलोच्य सप्ताह में अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के पास आरक्षित निधि 1.08 करोड़ डॉलर बढ़कर 2.99 अरब डॉलर और विशेष आहरण अधिकार 53 लाख डॉलर की बढ़त के साथ 1.46 अरब डॉलर पर पहुंच गया।

दुनिया के लगभग हर देश को अपने यहां आयात की जरूरतों के लिए विदेशी मुद्रा भंडार बनाना होता है, क्‍योंकि विदेशी से सामग्री मंगाने के लिए डॉलर, येन, यूरो जैसी मुद्राओं का स्‍टॉक होना जरूरी है। इनका संग्रह ही विदेशी मुद्रा भंडार है, जिसे देश का केंद्रीय बैंक, भारत में रिजर्व बैंक संभालता है।