एलपीजी कंपनी इंडेन से लीक हुआ 67 लाख ग्राहकों का आधार डेटा

0
624

नई दिल्ली।देश की नामी घरेलू गैस वितरण कंपनी इंडेन में जमा लाखों लोगों के आधार नंबर की डिटेल्स लीक हो गई है। एक फ्रेंच रिसर्चर ने अपनी स्टडी में यह दावा किया है। इंडियन ऑइल कॉर्पोरेशन के मालिकाना हक वाली कंपनी पर डीलर्स और डिस्ट्रिब्यूटर्स की ओर से दिए गए आधार नंबरों को लीक करने का आरोप है। यदि यह बात सही है तो यह निजता के उल्लंघन का अहम मामला है।

ऑनलाइन हैंडल पर इलियट एल्डरसन नाम से मौजूद बाप्टिस्ट रॉबर्ट ने पहले भी आधार लीक के मामलों को उजागर किया है। उन्होंने सोमवार रात को एक ब्लॉग पोस्ट के जरिए कहा कि 67 लाख डीलर्स और डिस्ट्रिब्यूटर्स का आधार डेटा लीक हुआ है।

एल्डरसन ने लिखा, ‘लोकल डीलर्स के पोर्टल्स पर ऑथेंटिकेशन की कमी के चलते इंडेन ग्राहकों के आधार नंबर पर दर्ज नाम, पते और अन्य जानकारियों को लीक कर रहा है।’ कस्टम बिल्ट स्क्रिप्ट के जरिए एल्डरसन ने 11,000 डीलर्स के पास मौजूद 67 लाख कस्टमर्स के आधार डेटा को हासिल कर लिया। हालांकि इंडेन ने बाद में उसके आईपी एड्रेस को ब्लॉक कर दिया।