RBI के फैसले से सेंसेक्स में 81 अंकों की तेजी

0
166

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की ओर से सरकार को 28 हजार करोड़ का लाभांश देने का फैसला निवेशकों को रास आया। इस कारण भारतीय शेयर बाजारों में मंगलवार को तेजी दिखी। बंबई स्टॉक एक्सचेंज का बीएसई 50 अंकों की तेजी के साथ 35,550 अंकों पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 15 अंकों की तेजी के साथ 10,656 अंकों पर खुला।

9.30 बजे सेंसेक्स 81 अंकों की तेजी के साथ 35579 अंकों पर और निफ्टी 11 अंकों की तेजी के साथ 10652 अंकों पर कारोबार कर रहा है। सुबह के कारोबार सत्र में सेंसेक्स में मिडकैप और स्मॉलकैप तेजी के साथ हरे निशान में कारोबार कर रहे हैं। निफ्टी मिडकैप और स्मॉलकैप में भी तेजी का माहौल बना हुआ है।

सेंसेक्स में टेक और आईटी को छोड़कर अन्य सभी सेक्टरों में तेजी का माहौल बना हुआ है। निफ्टी में आईटी, मीडिया, फार्मा सेक्टर लाल और बैंक, ऑटो, फाइनेंस सर्विसेज, एफएमसीजी, मेटल, पीएसयू बैंक, प्राइवेट बैंक रियलटी सेक्टर के शेयर हरे निशान में कारोबार कर रहे हैं।

शेयरों का हाल
सुबह कारोबार की शुरुआत में सेंसेक्स में प्रेस्टीज, शंकारा, आईएलएंडएफएस, ओबरॉय रियलटी, शॉपर्स स्टॉप में तेजी और नवकार कॉरपोरेशन, जेएसएल हिसार, सेंट्रम, मैग्मा, क्रिसिल में मंदी का माहौल रहा।

निफ्टी में शेयर का हाल
शुरुआती कारोबार में निफ्टी में टाइटन, पावरग्रिड, टेक महिंद्रा, यस बैंक, एचसीएल टेक्नोलॉजी में तेजी और इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस, एशियन पेंट्स, रिलायंस इंडस्ट्रीड लिमिटेड, विप्रो, ग्रॉसिम में मंदी का माहौल बना हुआ है।

सरकार को 28 हजार करोड़ का लाभांश देगा RBI
रिजर्व बैंक (Reserve Bank) ने सोमवार को सरकार को 28,000 करोड़ रुपए के डिविडेंड के भुगतान का फैसला किया है। आरबीआई (RBI) ने एक बयान के माध्यम से यह जानकारी देते हुए कहा कि उसके सेंट्रल बोर्ड से इसे मंजूरी मिल गई है। आरबीआई (RBI) अपने प्रॉफिट के एक हिस्से के तौर पर सरकार को डिविडेंड का भुगतान करता रहा है।

आरबीआई ने कहा, ‘लिमिटेड ऑडिट रिव्यू और वर्तमान इकोनॉमिक कैपिटल फ्रेमवर्क को लागू करने के बाद बोर्ड ने 31 दिसंबर, 2018 को समाप्त अपने वित्त वर्ष की छमाही के लिए 28 हजार करोड़ रुपए का एंटरिम डिविडेंड केंद्र सरकार को ट्रांसफर करने का फैसला किया है।’ यह लगातार दूसरा साल है, जब रिजर्व बैंक सरकार को एंटरमित सरप्लस ट्रांसफर करेगा।