गुर्जर आरक्षण आंदोलन: ट्रैन रूट के साथ सड़क मार्ग भी अवरुद्ध

0
41

कोटा। आंदोलनकारियों की वजह से कोटा से ट्रेन यातायात बुरी तरह प्रभावित था, अब सड़क यातायात भी अवरुद्ध होना शुरू हो गया। आंदोलनकारियों ने कोटा-जयपुर हाईवे पर टोंक जिले में बनास पुलिया पर जाम लगा दिया। इससे कोटा आने-जाने वाली बसें व अन्य वाहन जाम में फंस गए। पुलिस ने ट्रैफिक डायवर्ट करते हुए वाहनों को टोंक से पहले ही रोक लिया।

रोडवेज बसें भी परिवर्तित मार्ग से चलाईं गईं। उधर, कोटा होकर गुजरने वाली 27 प्रमुख ट्रेनें सोमवार को रद्द हो गई, जबकि कई गाड़ियों को परिवर्तित रूट से चलाया गया। रेलवे प्रशासन के मुताबिक, आंदोलन से रोजाना पूरे मंडल को 2 से 2.5 करोड़ रुपए का नुकसान हो रहा है।

गिनती की गाड़ियां कोटा आ रही हैं, जिन्हें जैसे-तैसे दूसरे रूट से आगे भेजा जा रहा है। उधर, बूंदी जिले के नैनवां क्षेत्र के टोपा गांव में एनएच-148 डी पर गुर्जर आंदोलनकारी दूसरे दिन भी जाम लगाकर बैठे रहे, यहां सभी वाहन डायवर्ट किए जा रहे हैं।

इसके अलावा सोमवार को झालावाड़ में गुर्जर समाज के लोगों ने मिनी सचिवालय के बाहर टायर जलाकर प्रदर्शन किया। बारां जिले के किशनगंज क्षेत्र के रेलावन में सोमवार को आसपास के 30 गांवों के गुर्जर समाज के लोगों की महापंचायत हुई, इसमें 15 फरवरी से बारां से शिवपुरी जाने वाले नेशनल हाईवे-27 को जाम करने की चेतावनी दी गई। समाज के प्रतिनिधिमंडल ने पुलिस अधिकारियों को ज्ञापन भी दिया।

टोंक में बनास पुलिया पर लगा रहा लंबा जाम
टोंक में गुर्जर आंदोलनकारियों के जाम लगाने के साथ ही कोटा-जयपुर मार्ग बंद हो गया। गुर्जर समाज के लोगों ने बनास नदी की पुलिया पर दोपहर 1:30 से जाम लगा दिया। इसके चलते वहां वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। हालांकि, इसके बाद पुलिस ने सभी वाहनों को टोंक के पहले ही वाहनों को रोक लिया।

इसके चलते कुछ लोगों ने दूसरे रास्ते से होकर अपना सफर तय किया और कुछ वाहन चालक जाम खुलने का इंतजार करते रहे। कोटा रोडवेज डिपो के मुख्य प्रबंधक जावेद अली ने बताया कि कोटा से जयपुर जाने वाली सभी बसें टोंक में जाम होने के कारण वहीं पर खड़ी हो गई।

इसके बाद जयपुर मुख्यालय से अनुमति ली गई और लोगों को जयपुर तक पहुंचाने के लिए मार्ग में परिवर्तन कर जयपुर तक पहुंचाया गया। रोडवेज प्रशासन की ओर से जयपुर जाने वाली सभी बसों को देवली से केकड़ी, मालपुरा, डिग्गी, फागी मार्ग से जयपुर भेजा है।

प्रदर्शन के दौरान टायर जलाए
गुर्जर समाज द्वारा आरक्षण की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन के संबंध में सोमवार को किशोरपुरा पदम नाथ मंदिर पर बैठक हुई। जिसमें मौजूद लोगों ने आंदोलन की आगामी रूपरेखा के संबंध में सुझाव दिए। सभा को संबोधित करते हुए धनराज चेची ने कहा कि यह राजनीतिक आंदोलन नहीं है, यह समाज की आवाज उठाने का वक्त है।

डॉ. बद्री गोचर ने कहा कि हमें शांतिपूर्ण तरीके से काम करना है और आगामी सूचना का इंतजार करना है। सभा में दिनेश गुर्जर, रवि गुर्जर, नंदलाल कसाणा, मनोहर कुवाड़ा सहित अन्य ने संबोधित किया। बैठक के बाद लोग वाहन रैली के रूप में मुख्य बाजार गुमानपुरा पहुंचे। जहां टायर जलाकर प्रदर्शन किया।

आज रद्‌द रहेंगी ये ट्रेनें
कोटा-निजामुद्दीन एक्सप्रेस, निजामुद्दीन-कोटा जनशताब्दी, यमुनाब्रिज आगरा-कोटा पैसेंजर, कोटा-यमुनाब्रिज आगरा पैसेंजर, सवाईमाधोपुर-मथुरा पैसेंजर, मथुरा-सवाईमाधोपुर पैसेंजर, पुणे-निजामुद्दीन एक्सप्रेस, नई दिल्ली-इंदौर एक्सप्रेस, बांद्रा टर्मिनस-मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस, पटना-कोटा एक्सप्रेस, जामनगर-वैष्णोदेवी माता कटरा एक्सप्रेस, हजरत निजामुद्दीन-उदयपुर एक्सप्रेस, पटना-कोटा एक्सप्रेस, कोटा-पटना एक्सप्रेस, ओखा-जयपुर एक्सप्रेस, निजामुद्दीन-अहमदाबाद एक्सप्रेस, निजामुद्दीन-मुंबई सेंट्रल एक्सप्रेस, देहरादून-बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस, नई दिल्ली-इंदौर एक्सप्रेस मंगलवार को रद्द रहेंगी। वहीं 13 फरवरी को रवाना होने वाली जयपुर-ओखा एक्सप्रेस तथा 14 फरवरी को रवाना होने वाली मुजफ्फरपुर-बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस को भी रद्द कर दिया है। वहीं कई ट्रेनों को परिवर्तित मार्ग से चलाया जा रहा है।