यात्रीगण कृपया ध्यान दें, कुछ दिन ट्रेन में सफर न करें, जानिए क्यों

0
316

कोटा। आरक्षण की मांग पर गुर्जर आंदोलनकारियों ने शुक्रवार शाम को कोटा रेल मंडल के मलारना व नीमोदा रेलवे स्टेशनों के बीच ट्रैक जाम कर दिया। दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग अवरुद्ध होने के कारण निजामुद्दीन-कोटा जनशताब्दी सहित 7 ट्रेनों को बीच रास्ते में गंगापुरसिटी व सवाईमाधोपुर रेलवे स्टेशन पर ही रद्द कर दिया गया।

साथ ही अगस्त क्रांति, मेन राजधानी सहित 21 ट्रेनों को परिवर्तित रूट से चलाया गया। आंदोलन जल्दी खत्म नहीं हुआ तो बड़ी संख्या में ट्रेन रद्द हो सकती हैं। इससे यात्रियों को तो परेशानी उठानी ही पड़ेगी, रेलवे को भी बड़ा नुकसान उठाना पड़ेगा।

ट्रैक को जाम करने की सूचना मिलने पर रेलवे प्रशासन ने निजामुद्दीन-कोच्चिवेली को बयाना निजामुद्दीन-कोटा जनशताब्दी एक्सप्रेस को गंगापुरसिटी व बांद्रा-गोरखपुर अवध एक्सप्रेस को सवाईमाधोपुर में ही रोक दिया। कुछ घंटे ट्रेनों को खड़ा करने के बाद मथुरा-सवाईमाधोपुर को गंगापुरसिटी रेलवे स्टेशन पर ही रद्द करने की घोषणा कर दी गई।

बाद में निजामुद्दीन-कोटा जनशताब्दी को भी गंगापुर में रतलाम-मथुरा मेमो ट्रेन को सवाईमाधोपुर में रद्द कर दिया गया। रतलाम-आगराफोर्ट ट्रेन को कोटा में ही रद्द किया गया। वहीं यमुना ब्रिज-आगरा कोटा पैसेंजर ट्रेन को बयाना में रद्द किया गया।

रेलवे हैल्पलाइन नंबर
ट्रेनों के रद्द होने या डायवर्ट होने की जानकारी लैंडलाइन नंबर 0744-2467149 के अलावा 138 पर ली जा सकती है।

गंगापुर सिटी में अटके विदेशी पर्यटक
निजामुद्दीन से कोटा के बीच चलने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस में भरतपुर से सवाईमाधोपुर के लिए लगभग 180 पर्यटक सवार हुए थे। ट्रैक जाम होने के कारण जनशताब्दी एक्सप्रेस को गंगापुरसिटी में ही रद्द कर दिया गया। ये सभी अब गंगापुरसिटी में फंसे हुए हैं। कोटा के रंगबाड़ी निवासी उमराव सिंह ने बताया कि वे वल्लभगढ़ से निजामुद्दीन-कोटा जनशताब्दी एक्सप्रेस से कोटा आ रहे थे। गंगापुरसिटी में ट्रेन रद्द कर दी गई।

यह हैं 21 ट्रेनें जिनका रूट परिवर्तित किया है