आरक्षण की मांग पर राजस्थान में गुर्जर आंदोलन फिर शुरू, कई ट्रेनें प्रभावित

0
112

जयपुर। आरक्षण की आग में राजस्थान फिर झुलस गया है। राजस्थान में गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति ने आरक्षण की अपनी मांग को लेकर अपना आंदोलन शुक्रवार शाम फिर शुरू कर दिया। गुर्जर नेता किरौड़ी सिंह बैंसला ने इस बार के आंदोलन को आर-पार की लड़ाई बताया है। बैंसला सवाईमाधोपुर जिले में मलारना डूंगर के पास अपने समर्थकों के साथ दिल्ली-मुंबई रेलवे लाइन पर बैठ गए। इसकी वजह से कई ट्रेनें प्रभावित हुईं।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि वे हालात पर करीब से निगाह रखे हुए हैं। वहीं, गुर्जर आंदोलन के मद्देनजर राजधानी जयपुर में उच्चस्तरीय बैठकें की जा रही हैं, जिससे आंदोलनकारियों से बातचीत की कोई राह निकाली जा सके। गुर्जर नेताओं ने मलारना डूंगर के पास चौहानपुरा मकसूदनपुरा में महापंचायत की और लगभग साढे़ 5 बजे आंदोलन शुरू करने का फैसला किया।

‘हालात बदल गए हैं, हम चूकेंगे नहीं’
रेलवे लाइन पर बैठने के बाद बैंसला ने मीडिया से कहा कि यह आर-पार की लड़ाई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार (अशोक गहलोत सरकार) को अपने वादे पर खरा उतरना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘हालात बदल गए हैं, इस बार हम चूकेंगे नहीं।’ गुर्जर नेता अपनी मांग के समर्थन में रेल व सड़क मार्गों को अवरुद्ध करने की चेतावनी दे चुके हैं। उल्लेखनीय है कि राज्य में गुर्जरों के आंदोलन का मुद्दा 14 साल से चल रहा है।

‘हम चाहते हैं पांच फीसदी आरक्षण
गुज्जर नेता किरौड़ी सिंह बैंसला ने कहा, ‘हम पांच फीसदी आरक्षण चाहते हैं। सरकार ने मेरे अनुरोध पर कोई जवाब नहीं दिया। इस वजह से हम आंदोलन कर रहे हैं।’