अपराधों की रोकथाम के लिये पुलिस प्रशासन एवं व्यापार महासंघ करेगा संयुक्त प्रयास

0
100

कोटा। कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन एवं महासचिव अशोक माहेश्वरी के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मण्डल ने शहर पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव से मिलकर पुलिस द्वारा स्टेशन क्षेत्र में हुए दोहरे हत्याकांड की पूरी गुत्थी सुलझाने के पश्चात ऐसे अपराधों की पुनरावृति न हो इस पर गहनता से विचार विमर्श किया।

कोटा व्यापार महासंघ अध्यक्ष एवं महासचिव ने पुलिस अधीक्षक को बताया कि जिस तरह की घटना 31 जनवरी को स्टेशन क्षेत्र में हुई। उसने पूरे शहर को हिला कर रख दिया था। पुलिस प्रशासन द्वारा जिस सूझबूझ से इस घटना का पर्दापाश किया, यह एक सराहनीय कदम है। शहर में इस तरह की घटनाएं दुबारा न हो इसके लिये कोटा व्यापार महासंघ पुलिस प्रशासन के साथ सहयोगात्मक रूप अपनाने को तैयार है।

शहर पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव ने कोटा व्यापार महासंघ द्वारा तुरन्त कोटा बंद को टालने एवं पुलिस को समय दिये जाने का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि व्यापार महासंघ सभी बाजारों, प्रतिष्ठानो एवं घरों पर जहॉं सीसी टीवी कैमरे नहीं लगे हुये है, वहॉं सीसी टीवी लगवाने के लिये मुहिम चलाएं।

उन्होंने कहा कि शीघ्र ही पुलिस प्रशासन व्यापार महासंघ के साथ मिलकर एक सेमिनार का आयोजन करेगा, जिसमें शहर के आमजन के सुरक्षा व्यवस्था के बारे में गहनता से विचार विमर्श किया जायेगा। महासंघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सत्यभान सिंह, उपाध्यक्ष हरविन्द्र सिंह एवं कोषाध्यक्ष गोपाल शर्मा ने बताया कि पुलिस प्रशासन ऐसी टास्क फार्स का गठन करें ।

व्यापार उद्योग सलाहकार बोर्ड के निदेशक राममंत्री छावनी चौराहा दुकानदार संघ के अध्यक्ष यश मालवीया ने बताया कि क्षेत्रीय व्यापार संघ एवं पुलिस प्रशासन मिलकर व्यापारिक प्रतिष्ठानों में एवं घरों में रखने वाले कर्मचारियों की आईडी एवं बायोडाटा का सत्यापन कर रिकार्ड में रखे।

कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष एवं महासचिव ने पिछले दिनों पेट्रोल पम्प पर हुई लूट की घटना को 24 घंटे में खोलने एवं ज्वेलर की पत्नी एवं बेटी की हत्या का शीघ्र पर्दापाश करने पर कोटा व्यापार महासंघ ने पुलिस प्रशासन का आभार व्यक्त करते हुये कहा कि इससे आमजन में सुरक्षा की भावना जागृत हुई है।

उन्होंने पुलिस प्रशासन से बाजारों एवं कॉलोनियों में गश्त बढ़ाने तथा बाहर से आने वाले अपराधियों पर कड़ी निगरानी रखने की मांग की। साथ ही एक सक्रिय स्पेशल टीम का गठन करें, जो ऐसी घटनायें होने पर तुरन्त प्रभाव से नाकाबंदी कर अपराधियों को गिरफ्तार कर सके। कोटा व्यापार महासंघ पुलिस प्रशासन का सहयोग देने के तैयार है।