लैपटॉप की ओवरहीटिंग कैसे करें दूर, जानिए तरीका

0
80

अगर आप लंबे समय तक लैपटॉप पर काम करते हैं, तो शायद एक समस्या से आप भी दो-चार हुए हों। बहुत सारे लैपटॉप में ओवरहीटिंग की समस्या आने लगती है। कई बार तो इसकी वजह से लैपटॉप का हार्डवेयर भी खराब हो जाता है। चलिए, जानते हैं कि ओवरहीटिंग की समस्या को कैसे ठीक किया जा सकता है…।

कैसे जानें ओवरहीटिंग?
अगर लैपटॉप गर्म होने का एहसास दे, तो इसका मतलब ओवरहीटिंग नहीं है। लैपटॉप ओवरहीटिंग की निशानी यह है कि इसका फैन लगातार अधिकतम स्पीड पर रन कर रहा हो। आपको यह भी एहसास होगा कि लैपटॉप का परफॉर्मेंस कम हो गया है क्योंकि ओवरहीटिंग की वजह से सीपीयू क्लॉक स्पीड को कम कर देता है।

अगर आप लैपटॉप की वास्तविक हीट वैल्यू को मापना चाहते हैं, तो इसके लिए ‘एचडब्ल्यू मॉनिटर’ जैसे टूल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे यह भी पता चल जाएगा कि लैपटॉप का कौन-सा हिस्सा ज्यादा गर्म हो रहा है। ओवरहीटिंग का कारण कई बार पर्याप्त कूलिंग का नहीं होना भी होता है।

कैसे ठीक करें इस समस्या को?
ओवरहीटिंग से जुड़ी समस्याओं को आप खुद भी ठीक कर सकते हैं…। इंटरनल कूलिंग ओवरहीटिंग को ठीक करने के लिए सबसे पहले लैपटॉप के फैन को साफ करें, जो सीपीयू और ग्राफिक कार्ड को ठंडा रखने में मदद करता है। अगर नियमित तौर पर फैन साफ नहीं करते हैं, तो इसके आसपास डस्ट की एक परत जम जाती है, जिससे एयरफ्लो का रास्ता ब्लॉक हो जाता है।

लैपटॉप को ओपन करने के लिए आप उसके मैनुअल की मदद ले सकते हैं। साथ ही, मैनुअल के हिसाब से ही लैपटॉप की सफाई भी करें। फैन के आसपास जमे डस्ट को साफ करने से पहले लैपटॉप को शटडाउन करें। फिर बैटरी निकाल लें। लैपटॉप को अनप्लग्ड रखें। फैन को साफ करते समय सावधानी जरूर बरतें।

आप इसे कॉटन और अल्कोहल के साथ साफ कर सकते हैं। साफ करते समय फैन को विपरीत दिशा में न घुमाएं। इस बात का भी ध्यान रखें कि कोई चीज टूटे नहीं। इसके अलावा, आप एग्जॉस्ट पोर्ट को वैक्यूम क्लीनर से भी साफ कर सकते हैं। इनटेक ग्रिल को भी कैन्ड एयर द्वारा स्प्रे कर उसे साफ किया जा सकता है। इसके बाद लैपटॉप मैनुअल के आधार पर फ्रेश थर्मल ग्रीस का इस्तेमाल कर सकते हैं।

हार्ड सरफेस पर रखें लैपटॉप
अधिकांश लैपटॉप्स में एयर कूलिंग वाला हिस्सा नीचे की तरफ बना होता है। ऐसी स्थिति में कंबल, तकिया, सोफा आदि पर रखकर काम करने से लैपटॉप का एयरफ्लो प्रभावित होने लगता है। इससे लैपटॉप का हीट लेवल भी बढ़ने लगता है और जिस चीज पर लैपटॉप रखा गया है, वह भी गर्म होने लगती है। इससे बचने का तरीका यह है कि जब भी आपको लैपटॉप पर कार्य करना हो, उसे हार्ड और समतल सतह पर ही रखें।

लैपटॉप कूलर व कूलिंग पैड
अगर आपके लैपटॉप में कूलिंग की समस्या ज्यादा है, तो आप लैपटॉप कूलर या कूलिंग पैड का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह लैपटॉप को अतिरिक्त कूलिंग प्रदान करता है। ध्यान रहे, यदि आप गलत कूलर का इस्तेमाल करते हैं, तो आपकी परेशानी उल्टे बढ़ सकती है। इसकी खरीददारी के समय आपको यह ध्यान रखना होगा कि लैपटॉप में एयरफ्लो कहां से हो रहा है। इस तरह आप अपने लैपटॉप को ओवरहीटिंग से बचा सकते हैं।