मारवाड़ी शैली में नानी बाई रो मायरो 12 फरवरी से

0
53

भवानीमण्डी। मानधना माहेश्वरी परिवार की ओर से भवानीमण्डी में नानी बाई रो मायरों कथा का आयोजन 12 फरवरी से होगा। मानधना परिवार के पूर्वजों की स्मृति में नवनिर्मित भवन ‘परम्परा’ के लोकार्पण अवसर पर इस कथा का आयोजन किया जा रहा है।

गोवत्स राधाकृष्ण महाराज के श्रीमुख से निर्झरित विशिष्ट मारवाड़ी शैली में नानी बाई रो मायरो कथा का वाचन गोकृल धाम राधेश्याम मंदिर बगीची में 12 से 14 फरवरी तक प्रतिदिन दोपहर 2 से सांय 5 बजे तक होगा। कथा का शुभारंभ भव्य शोभायात्रा से होगा।

मानधना परिवार के गोविन्द माहेश्वरी ने बताया कि माहेश्वरी समाज के संयोजन एवं राधेश्याम मंदिर ट्रस्ट, भारत विकास परिषद, अखिल भारतीय मारवाड़ी महिला संगठन, राजस्थान टेक्सटाइल मिल्स एवं भवानीमण्डी वेलफेयर ट्रस्ट के सहसंयोजन में आयोजित इस कथा के दूसरे दिन 13 फरवरी को गिरिराज मित्र मण्डल कोटा की ओर से भजन संध्या रात्रि 8 से 11 बजे तक होगी। 14 फरवरी को संकीर्तन प्रभात फेरी निकाली जाएगी।