रामगंजमंडी-भोपाल बड़ी रेल लाइन के लिए 350 करोड़ का बजट

0
341

कोटा। संसद में शुक्रवार को अंतरिम आम व रेल बजट पेश किया गया। पश्चिम मध्य रेलवे के लिए बजट में 3158 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। पूर्व में स्वीकृत दोहरीकरण एवं तिहरीकरण का कार्यों के लिए 1088 करोड़ रुपये से कार्य होंगे। रामगंजमंडी से भोपाल तक की बड़ी रेल लाइन परियोजना के लिए 350 रुपए का प्रावधान किया गया है। दोहरीकरण में बीना-कोटा में 240 करोड़, कटनी-सिंगरौली के लिए 300 करोड़ से कार्य होंगे।

ट्रैक की सुरक्षा के लिए पुरानी पटरियों के नवीनीकरण के लिए 522 करोड़, रोड ओवर ब्रिज एवं अंडरपास के लिए 250 करोड़ का प्रावधान किया गया है। यात्रियों की सुविधा बढाने के लिए 178 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इस राशि से पश्चिम मध्य रेलवे के कोटा,भोपाल व जबलपुर मंडल के रेलवे स्टेशनों पर यात्री सुविधाएं बढ़ाने पर खर्च होगी।

कोटा मंडल के लगभग 16 रेलवे स्टेशनों पर सुविधाएं बढ़ेंगी। इसके तहत प्लेटफार्म की ऊंचाई बढ़ाने, प्लेटफार्म को लंबा करने, वेटिंग हॉल बनाने, रेलवे स्टेशन के बाहरी क्षेत्र के विस्तार के काम होंगे। फुट ओवर ब्रिज के लिए 85 करोड़ रुपए, स्टेशन पर लिफ्ट लगाने के लिए 5 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है।

अब चलेगी झालरापाटन तक ट्रेन
रामगंजमंडी-भोपाल बड़ी रेल लाइन परियोजना के तहत रामगंजमंडी से झालावाड़ तक का 26.5 किमी तक रेल बिछाने के काम के पूरा होने के बाद इस रूट पर पिछले दिनों ट्रेन चलाई जा चुकी है। झालावाड़ से झालरापाटन तक के 7 किमी के रूट का काम अब लगभग पूरा हो चुका है। मार्च 2019 तक इस रूट पर पैसेंजर व मालगाड़ी चलाई जाएगी।