राजस्थान में अगले सत्र से कॉलेज में फ्री में पढ़ेंगी बेटियां :उच्च शिक्षा मंत्री

0
511

अजमेर। जुलाई से प्रदेश की बेटियों के लिए कॉलेज शिक्षा फ्री होगी। पांचों साल की पढ़ाई के लिए बेटियों को कोई फीस नहीं चुकानी पड़ेगी। यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली बेटियों के लिए भी फ्री शिक्षा की व्यवस्था होगी। कॉलेजों में रिक्त पदों में से 830 पदों पर कॉलेज शिक्षकों के लिए आरपीएससी को प्रस्ताव भेज दिया गया है। हम समीक्षा के नाम पर शिक्षा के साथ खिलवाड़ नहीं करेंगे न ही कोई संस्थान बंद करेंगे।

यह बात प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने मीडियाकर्मियों से चर्चा के दौरान कही। वे बुधवार को जीसीए में छात्र संघ कार्यालय का उद्घाटन करने अजमेर आए थे। सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय में छात्र संघ कार्यालय का उद्घाटन करने पहुंचे उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा है कि कांग्रेस सरकार शहरों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी उच्च शिक्षा का विकास करने के लिए प्रतिबद्ध है।

भंवर सिंह भाटी ने कहा कि हमने घोषणा पत्र में वादा किया था कि बेटियों के लिए फ्री शिक्षा दी जाएगी। अगले सत्र से यह व्यवस्था राजकीय कॉलेजाें में शुरू कर दी जाएगी। इसके लिए वित्त विभाग को प्रस्ताव भेज दिया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य के कॉलेजों में व्याख्याताओं की कमी शीघ्र दूर हो जाएगी।

राज्य सरकार ने राजस्थान लोक सेवा आयोग को 830 कॉलेज लेक्चरर भर्ती की अभ्यर्थना भेजी है। ग्रामीण क्षेत्रों में उच्च शिक्षा का विकास किया जाएगा। राज्य के 252 कॉलेजों में विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए निशुल्क कोचिंग दी जा रही है। हमने चुनाव के दौरान जनघोषणा पत्र में जो वादे किए, उन्हें पूरा किया जा रहा है।