जियो का सस्ता डाटा मिलता रहेगा, एयरटेल-वोडा आइडिया को लगेंगे झटके

0
519

नई दिल्ली। रिलायंस जियो टैरिफ के मोर्चे पर अपने प्रतिद्वंद्वियों को कोई राहत देने के मूड में नहीं है। कंपनी ने विश्लेषकों को बताया है कि मौजूदा टैरिफ पर ही कंपनी की आमदनी के साथ-साथ ग्राहकों की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है, इसलिए टैरिफ बढ़ाने का कोई औचित्य नहीं बनता है। जियो के इस रुख से वोडाफोन आइडिया (वीआईएल) और भारती एयरटेल की आमदनी में बढ़ोतरी फिलहाल दूर की कौड़ी लग रही है।

जियो की तीसरी तिमाही के वित्तीय नतीजे आने के बाद एक बैठक में मौजूद गोल्डमैन सैक्स, मॉर्गन ऐंड सिटी स्टेनली तथा सिटी रिसर्च जैसी ब्रोकरेज कंपनियों के कई विश्लेषकों ने जियो के अधिकारियों के हवाले से कहा कि 28 करोड़ ग्राहक, लगभग 24 फीसदी सब्सक्राइबर्स मार्केट पर कब्जा तथा रेवेन्यू मार्केट में 26 फीसदी हिस्सेदारी के बाद भी कंपनी की नजर ग्राहकों की संख्या बढ़ाने पर है

गुरुवार को हुई बैठक में शिरकत करने वाले गोल्डमैन सैक्स के एक विश्लेषक ने एक नोट में कहा, ‘जियो का कहना है कि वह मौजूदा टैरिफ और ग्राहकों की बढ़ती संख्या से छेड़छाड़ करने के मूड में नहीं है, क्योंकि आने वाले समय में वह और ग्राहकों को जोड़ना चाहती है।’

40 करोड़ ग्राहक पाने का जियो का लक्ष्य
वैश्विक ब्रोकरेज का कहना है कि इसका यही अर्थ निकलता है कि जब तक जियो लक्ष्य के अनुरूप 40 करोड़ ग्राहकों का आंकड़ा हासिल नहीं कर लेती, तब तक प्रतिद्वंद्वी कंपनियों वोडा आइडिया और भारती एयरटेल की आमदनी में कोई सुधार होने की उम्मीद नहीं है। शुक्रवार को बीएसई पर भारती एयरटेल का शेयर 6.4 फीसदी गिरावट के साथ 310.95 रुपये, जबकि वोडाफोन आइडिया का शेयर 4.5 फीसदी की गिरावट के साथ 35.20 पर पहुंच गया।

लगातार बढ़ रहे जियो के यूजर्स
विश्लेषकों के मुताबिक, जियो से हर माह लगभग 90 लाख से एक करोड़ के बीच नए ग्राहक जुड़ रहे हैं, इसलिए इस हिसाब से वित्त वर्ष 2018-19 मे के अंत तक इसके ग्राहकों की संख्या 30.2 करोड़ तक पहुंच जाएगी।

इसकी तुलना में, नवंबर के अंत तक एयरटेल के पास लगभग 34.2 करोड़ ग्राहक और वोडाफोन आइडिया के पास केवल 42.1 करोड़ ग्राहक थे। पिछले कुछ महीनों में एयरटेल का यूजर घटा ही है, जबकि वोडाफोन आइडिया के ग्राहक तेजी से घट रहे हैं।

एयरटेल, वोडाफोन आइडिया को फिर होगा नुकसान
एयरटेल और वोडा आइडिया को इस महीने के अंत में या अगले महीने की शुरुआत में एक बार फिर भारी नुकसान होने की संभावना है। दूसरी तरफ, जियो को लगातार पांचवीं तिमाही मे मुनाफा हुआ है। दिसंबर तिमाही में उसका मुनाफा 65 फीसदी बढ़कर 831 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।